राजधानी दिल्ली में आइटीओ से लक्ष्मी नगर की तरफ जाने वाला मार्ग साबित हो रहा सबसे खतरनाक

 समय सुबह का हो या रात का, राजधानी में आइटीओ से लक्ष्मी नगर की तरफ जाने वाला मार्ग सबसे खतरनाक साबित हो रहा है। लगातार मोबाइल लूटने की वारदात से जहां आम लोग असुरक्षित हैं, वहीं पुलिस की सक्रियता पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। एक माह में इस मार्ग और उसके आसपास के स्थानों पर 14 लोग के साथ लूट की घटनाओं को अंजाम दिया गया है। लूट की ये सभी वारदात शकरपुर थाने में दर्ज की गई हैं, जबकि कई ऐसी घटनाएं भी हैं, जो लोगों के शिकायत न करने के कारण दर्ज ही नहीं हो सकी हैं।

Loading...

सबसे अधिक घटनाएं सुबह दस बजे से पहले और रात में नौ बजे के आसपास हुई हैं, जबकि दो वारदात को दोपहर में अंजाम दिया गया है। अधिकांश मामलों में पैदल लोग बदमाशों का निशाना बने हैं। वहीं दोपहिया वाहन चालक और कार चालकों को भी बदमाशों ने लूटा है। सभी वारदातों को बाइक सवार बदमाशों ने अंजाम दिया है।

लूट के 14 मामलों में से अधिकांश पीड़ितों से मोबाइल लूटे गए हैं, जबकि एक महिला से सोने की चेन और एक पीड़ित से नकदी भी लूटी गई है। स्ट्रीट लाइट खराब होने का फायदा उठाते हैं लुटेरे कई घटनाओं में बदमाशों ने हथियार के बल पर लूट की तो कई में पीड़ितों के हाथ से मोबाइल झपट लिए।

एक वारदात में बदमाश कामयाब नहीं हो सके, जबकि एक वारदात में बदमाश गिर गए और उनकी स्कूटी मौके पर ही छूट गई। जांच में पता लगा कि स्कूटी चोरी की थी। आइटीओ से लक्ष्मी नगर के बीच यमुना का पुल पार करने के बाद एक ही स्थान पर लूट की कई घटनाओं को अंजाम दिया गया है। इस मार्ग पर रात में वारदात होने की सबसे बड़ी वजह स्ट्रीट लाइट का खराब होना भी है। वहीं बदमाशों को यहां से भागने के लिए कई रास्ते भी मिल जाते हैं।

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *