Home > जीवनशैली > हेल्थ > ये 10 मिनट के योगासन जो वजन घटाने में करें मदद

ये 10 मिनट के योगासन जो वजन घटाने में करें मदद

वजन कम करने के लिए दस मिनट के योगासन

योग अपनी कमाल की शक्तियों और लोभों की वजह से देश ही नहीं पूरी दुनिया द्वारा किया और सराहा जाता है। नियमित योग से आप न सिर्फ शारीरिक तौर पर फिट रहते हैं बल्कि आपका मानसिक स्वास्थ्य भी बेहतर होता जाता है। योग की मदद से लगभग सभी प्रकार की समस्या से निपटा जा सकता है, जिनमें से एक मोटापा की समस्या भी है। तो चलिये जाने रोज केवल 10 मिनट इन योग आसनों को कर आप मोटापे की समस्या को कैसे मात दे सकते हैं। ये 10 मिनट के योगासन जो वजन घटाने में करें मदद

भुजंगासन

भुजंगासन से पेट की चर्बी कम होने के साथ बाजुओं, कमर और पेट की मांसपेशियों को मजबूती मिलती है और साथ ही आपका शरीर लचीला बनता है। इसे करने के लिए पेट के बल सीधा लेट जाएं और दोनों हाथों को माथे के नीचे टिकाएं। दोनों पैरों के पंजों को साथ में रखें। अब माथे को सामने की ओर उठाएं और दोनों बाजुओं को कंधों के समानांतर रखें जिससे शरीर का भार बाजुओं पर पड़े। शरीर के अग्रभाग को बाजुओं के सहारे उठाएं। शरीर को स्ट्रेच करें और लंबी सांस लें। कुछ सेकंड इसी अवस्था में रहने के बाद वापस पेट के बल लेट जाएं।

हस्तपादासन

मोटापे से बचने के लिए हस्तपादासन का नियमित अभ्यास करें। यह आसन मोटापे को कम करने के साथ-साथ रीढ़ की हड्डी को शक्तिशाली बनाता है, आंतों को स्वस्थ रखता हैं। तथा पेट व प्रजनन अंगों को ठीक करता हैं। इसे करने के लिए सीधे खड़े होकर अपने दोनों पैरों की एडियों व पंजों को आपस में मिला लें और दोनों हाथों को ढीला छोड़ दें। फिर सांस को बाहर छोड़ते हुए कमर के ऊपरी भाग को धीरे-धीरे सामने की ओर झुकाएं। घुटनों को बिल्कुल सीधा रखें। शुरुआत में इस स्थिति में 10 सेकंड तक रहें और फिर सामान्य स्थिति में आकर 5 सेकेण्ड आराम करें और इस आसन को कम से कम 5-6 बार करें। 

बालासन

बालासन पेट की चर्बी कम होने के साथ मांसपेशियां को मजबूती देता हैं। इसे करने के लिए शरीर का सारा भाग एड़ियों पर डालने के लिए घुटने के बल जमीन पर बैठ जाएं। गहरी सांस लेते हुए आगे की ओर झुकें। आपका सीना जांघों से छूना चाहिए और माथे से फर्श छूने की कोशिश करें। कुछ सेकंड इस अवस्था में रहने के बाद सांस छोड़ते हुए वापस उसी अवस्था में आ जाएं।

पश्चिमोत्तानासन

पश्चिमोत्तानासन वजन कम करने के लिए बेहद आसान और प्रभावी आसन है। इस आसान को करने के लिए सबसे पहले सीधा बैठ जाएं और दोनों पैरों को सामने की ओर सटाकर सीधा फैलाएं। दोनों हाथों को ऊपर की ओर उठाएं और कमर को बिल्कुल सीधा रखें। फिर झुककर दोनों हाथों से पैरों के दोनों अंगूठे पकड़ने की कोशिश करें। ध्यान रहें इस दौरान आपके घुटने मुड़ने नहीं चाहिए और न ही आपके पैर जमीन से ऊपर उठें। कुछ सेकंड इस अवस्था में रहने के बाद वापस सामान्य अवस्था में आ जाएं। 

उष्ट्रासन या ऊंट पोज

उष्ट्रासन को करने से आपकी आकृति ऊंट के जैसी हो जाती है। इसलिए इसे उष्ट्रासन कहा जाता है। वजन कम करने के साथ-साथ यह पेट, कमर, छाती और बाहों की चर्बी को कम करने में मदद करता है। इसे करने के‍ लिए वज्रासन में बैठकर  घुटनों के बल खड़े हो जाये। घुटनों से कमर तक का भाग सीधा रखें व पीठ को पीछे की ओर मोड़कर हाथों से पैरों की एड़ियां पकड़ लें। अब सिर को पीछे की ओर झुका दें। ऐसे कुछ सेकंड करने के बाद वापस सामान्‍य अवस्‍था में आ जाये। इस योग को तीन बार दोहराये।

धनुरासन

इस आसन से आप उस जगह का फैट भी बहुत आसानी से कम कर सकते हैं, जहां से वजन कम करने में अक्‍सर मुश्किलें आती है। जैसे जांघ, चेस्‍ट, हिप्‍स और पेट के नीचे का हिस्‍सा। इसे करने के लिए सबसे पहले पेट के बल लेट जाये। फिर दोनों पैर आपस में एक-दूसरे से जोड़ें। दोनों पैरों को घुटनों से मोड़ें। घुटनों तथा पंजों के बीच में एक फुट का अंतर रख कर दोनों पैरों के टखनों को हाथों से पकड़ें। हाथों के सहारे दोनों पैरों के घुटने, जांघ तथा धड़ को सुविधानुसार एवं क्षमतानुसार ऊपर उठाएं।

पूर्वोत्तानासन

इस आसन से चर्बी घटाने में आसानी होती है। यह शरीर के निचले भाग और बाजुओं को सुडौल बनाने के लिए अच्छा आसन है। इससे शरीर लचीला रहता है। इसे करने के लिए अपने पैरों को सामने की ओर फैलाकर सीधे बैठ जाएं। ध्‍यान रखें कि पंजे जुड़े हुऐ और रीढ़ की हड्डी सीधी होनी चाहिए। अब दोनों हाथों को जमीन पर टिकाकर कमर के निचले हिस्से को ऊपर की ओर उठाएं। कुछ सेकंड इस अवस्था में रहने के बाद वापस सामान्य अवस्था में आ जाएं।

पद्मासन

पद्मासन करने से आपके शरीर की वसा कम होती है। इसे करने के लिए जमीन पर बैठकर पैरों को एक दूसरे के इस प्रकार रखें कि एड़‍ियां नाभि के पास आ जाए। फिर मेरुदण्ड सहित कमर से ऊपरी भाग को पूर्णतया सीधा रखें। लेकिन ध्यान रखें कि दोनों घुटने जमीन से उठने न पाएं। इसके बाद दोनों हाथों की हथेलियों को गोद में रखते हुए स्थिर रहें। 

चक्रासन

यह आसन वजन कम करने के साथ-साथ शरीर में स्फूर्ति, शक्ति एवं तेज की वृद्धि करता है। इसे करने के लिए पीठ के बल लेटकर दोनों घुटनों को मोड़ें। ध्‍यान रखें कि आपकी एड़ि‍यों, नितम्बों के समीप लगी हो। संतुलन बनाये रखने के लिए दोनों हाथों को उल्टा करके कंधों के पीछे थोड़े अन्तर पर रखें। धीरे-धीरे हाथ एवं पैरों को समीप लाने का प्रयत्‍न करें, जिससे शरीर की चक्र जैसी आकृति बन जाए। इस प्रकार 3-4 बार आवृति करें।

पवनमुक्तासन

इस योग से पेट और कमर की चर्बी कम होती है। इसे करने के लिए पीठ के बल लेट जाएं और दोनों पैरों को मिलाकर रखें।  अपने हाथों को शरीर के साथ सटाकर रखें और हथेलियों का रुख जमीन की ओर रखें। सबसे पहले दाये घुटने को मोड़कर दायीं जांघ को छाती की ओर लेकर जाये। दोनों हाथों की अंगुलियों को आपस में मिलाकर घुटने से थोड़ा नीचे से पकड़ लें। अब गहरी सांस भरें और सांस छोड़ते हुए पैर को छाती की ओर लेकर जाये। थोड़ा दबाव देकर रखें। सांस बाहर रोककर रखें और सिर को जमीन से उठाते हुए अपने माथे को दाये घुटने से छूने का प्रयास करें। 

Loading...

Check Also

दिल की सेहत के लिए टहलने व साइकिल चलाने से ज्यादा कामयाब यह तरकीब

दिल की सेहत के लिए टहलने व साइकिल चलाने से ज्यादा कामयाब यह तरकीब

यह आम धारणा है कि दिल को दुरुस्त रखने के लिए शारीरिक सक्रियता जरूरी है, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com