ये हैं 5 बड़े कारण जिसकी वजह से मच्छर के काटने पर होती है खुजली

डेंगू मलेरिया और चिकुनगुनिया जैसी गंभीर बीमारियां मौसम बदलते ही अपने पैर पसारने लगती हैं। इन बीमारियों को फैलाने वाले मच्छर जैसे ही व्यक्ति को काटते हैं उसे उस जगह बहुत तेज खुजली होने लगती है। पर क्या आप जानते हैं ऐसा क्यों होता है। व्यक्ति को मच्छर के काटके ही आखिर खुजली क्यों होने लगती है। ये हैं 5 बड़े कारण जिसकी वजह से मच्छर के काटने पर होती है खुजली

इस बात से तो हर कोई वाकिफ होता है कि मादा मच्छर हमारा खून चूसने के लिए अपना डंक शरीर में चुभोती हैं। खून चूसने के लिए जो डंक हमारे शरीर में उतारा जाता है वह एक बाल जितना बारीक होता है। खास बात यह है कि इंसानों के शरीर में खून में थक्का बहुत जल्दी बन जाता है। जिसकी वजह से उन्हें खून चूसने में दिक्कत होती है। इससे बचने के लिए मादा मच्छर खून पीते समय व्यक्ति के शरीर में एक विशेष जहरीला रसायन मिला देती है। जिसकी वजह से खुजली होती है।

आपके शरीर से खून चूसते समय मच्छर अपना थूक अपने डंक की मदद से आपके शरीर में प्रवेश कर देता है। मच्छरों के थूक में थक्कारोधी तत्वों के साथ कई प्रोटीन मौजूद होते हैं जो थूक के साथ आपके शरीर में प्रवेश करते हैं। जिसकी वजह से आपको खुजली महसूस होती है।
मच्छर खून चूसते समय डंक की मदद से जो प्रोटीन शरीर में प्रवेश करते हैं उससे बचाने के लिए रोगप्रतिरोधक क्षमता व्यक्ति की मदद करती है। ऐसा करते समय व्यक्ति की रोगप्रतिरोधक क्षमता हिस्टामिन नाम का एक कंपाउंड रिलीज करती है। यह कंपाउंड आपके सफेद रक्त कोशिकाओं या व्हाईट ब्लड सेल्स को उस प्रभावित क्षेत्र में पहुंचकर उस प्रोटीन से लड़ने में मदद करता है। हिस्टामिन नाम के इस कंपाउंड की वजह से भी व्यक्ति को खुजली और सूजन महसूस होती है।

मच्छर के काटने पर शरीर की वो जगह काफी संवेदनशील हो जाती है। ऐसे में उस जगह खुजली करने पर त्वचा और सवेंदनशील बन जाती है।जिसकी वजह से एक बार खुजलाने पर वहां काफी तेज खुजली होने लगती है। लगातार खुजलाने पर आपकी त्वचा को नकसान या फिर किसी तरह का इंफेक्शन होने का खतरा भी बना रहता है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button