ये न करें नहीं तो रातों की नींद उड़ जाएगी

sleep-woman-130916-300x199आज की भागदौड़ की जिंदगी में लोगों की सबसे बड़ी समस्या नींद की है। ऑफिस से लेकर घर तक ऐसे बहुत से लोग हैं, जिन्हें इस तरह की समस्या से रोज दो-चार होना पड़ता है। अनिद्रा और तनाव से ग्रसित लोग न जाने कहां-कहां और किस किस के पास चक्कर लगाते रहते हैं। लेकिन अब इस समस्या से ग्रसित लोगों को कहीं जाने की जरूरत नहीं है। अब इसका इलाज घर बैठे भी हो सकता है।

हेल्दी लाइफस्टाइल के लिए कम से कम सात-आठ घंटे की नींद ज़रूरी है। सही नींद डाइजेशन से लेकर खूबसूरती को बरकरार रखने तक में कारगर मानी जाती है। बॉडी के साथ ही माइंड भी रिलैक्स होता है जिससे स्ट्रेस फ्री होकर घर हो या ऑफिस काम किया जा सकता है। लेकिन रात नौ बजे के बाद की आपकी कुछ आदतें नींद न आने का कारण बनती हैं, जिन्हें आज से नहीं बल्कि अभी से दूर करना शुरू कर दें…

1-भारी डिनर करना

रात 8 बजे से पहले डिनर करना ज़रूरी है। लेकिन फिर भी आप 9 बजे के बाद डिनर करती हैं तो हल्का खाएं। सूप, सलाद जैसे फूड ही खाएं। ऑइली डिशेज़ कम खाएं। प्लेट में बेक्ड और बॉइल्ड चीजें ही लें।

2- ईमेल या फोन पर बिजी रहना

घर आने के बाद भी ज्यादातर लोगों का ध्यान उनके ईमेल और फोन पर लगा रहता है। इससे दिमाग को रेस्ट नहीं मिल पाता और नींद नहीं आती। हो सके तो सोने से पहले 20 मिनट मेडिटेशन करें।

3- परिवार के साथ बहस या लड़ाई

सोने से पहले परिवार वालों के साथ बहस हो जाती है तो उसका सीधा असर नींद पर पड़ता है। कोशिश करें कि अपने पार्टनर या परिवार के लोगों के साथ अच्छा वक्त बिताएं न कि बहस या लड़ाई करें।

4- रात को फिल्म या टीवी देखना

डिनर के बाद तीन घंटे लगातार टीवी या लैपटॉप पर आंखें गड़ाए रखना, शरीर के लिए ठीक नहीं। इससे आंखों पर दबाव पड़ता है और नींद नहीं आती।

5- डिनर के बाद चाय या कॉफी

कैफीन का असर सीधा नींद पर पड़ता है। एक्सपर्ट की मानें तो डिनर के बाद कॉफी पीने से कई घंटों तक नींद नहीं आती है। यह आदत जितनी जल्दी हो दूर करें।

6- हल्की-फुल्की किताब पढ़ें

रिसर्चर्स ने यह बात भी मानी कि सोने के पहले डीप थिंकिंग पढ़ने से नींद भाग जाती है। ऐसे में नॉन- फिक्शन बुक्स की बजाय फिक्शन नॉवेल्स पढ़ें।

 

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button