यूपी चुनाव 2017: चौथे चरण तक सिर्फ 325 महिला नेताओं को मिला टिकट

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में गुरुवार को चौथे चरण का मतदान हो रहा है। चौथे चरण में 12 जिलों की 53 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं। इस चरण के 680 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला ईवीएम में कैद हो जाएगा। चौथ चरण तक महिला उम्मीदवारों की संख्या पर नजर डालें तो ये आकंडे बताते हैं कि राजनीतिक दल महिलाओं को जिताऊ उम्मीदवार के तौर पर नहीं देखते।

यूपी चुनाव 2017: चौथे चरण तक सिर्फ 325 महिला नेताओं को मिला टिकट

तमाम राजनीतिक दलों में महिलाएं बड़े-बड़े पदों पर बैठी हुई हैं, इसके बावजूद राजनीतिक दल कोई मिसाल कायम करने में नाकाम रहे हैं। भाजपा, कांग्रेस, बसपा और सपा उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ रही इन चारों प्रमुख पार्टियों ने महिलाओं को अब तक उचित प्रतिनिधित्व करने का मौका नहीं दिया है।

यह भी पढ़े : मुलायम-अखिलेश कागडा सिर्फ एक ड्रामा, खुद मुलायम ने लिखी थी स्क्रिप्ट

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की बात करें तो पहले तीन चरण का मतदान हो चुका है और चौथे चरण के तहत मतदान चल रहा है। इन चार चरणों की बात की जाए तो अब तक 325 महिलाओं को ही राजनीतिक दलों ने अपना उम्मीदवार बनाया है। यह आंकड़ा कुल प्रत्याशियों का सिर्फ 10.6 फीसद बनता है, जबकि मांग हमेशा 33 फीसद की होती रही है।

एक नजर चरण दर चरण महिला उम्मीदवारों पर

पहले चरण में तमाम राजनीतिक दलों ने सिर्फ 77 महिला नेताओं को उम्मीदवार बनाया। दूसरे चरण में 82 महिला नेताओं को तमाम राजनीतिक दलों ने अपना प्रत्याशी बनाया। तीसरे चरण में तमाम राजनीतिक दलों द्वारा 105 महिलाओं को टिकट दिया गया है। जबकि चौथे चरण की बात की जाए तो इसमें 61 महिला उम्मीदवारों पर राजनीतिक दलों ने अपना विश्वास जताया है। बता दें कि इस चरण में कुल 680 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button