“मुख्य सतर्कता आयुक्त को जेल भेजना चाहिए”-जेठमलानी

एजेन्सी/download-3-3-300x150पूर्व केन्द्रीय कानून मंत्री राम जेठमलानी ने मुख्य सतर्कता आयुक्त के रूप में के वी चौधरी की नियुक्ति को चुनौती देने वाली अपनी याचिका की जल्द सुनवाई करने की मांग करते हुए कहा कि एनडीए सरकार ने एक ऐसे व्यक्ति को सीवीसी नियुक्त कर दिया जिसे जेल में होना चाहिए।

बार के वरिष्ठतम सदस्य जेठमलानी के गुस्से पर मुख्य न्यायाधीश टी एस ठाकुर और जस्टिस यू यू ललित की पीठ ने कहा कि आप लोगों को जेल से बाहर निकालने के तर्क पेश करते रहे हैं और आज आप एक व्यक्ति को जेल भेजना चाहते हैं। पीठ ने याचिका पर अगली सुनवाई की तिथि 29 मार्च तय की है।

उल्लेखनीय है कि एक एनजीओ ने सीवीसी के रूप में सीटीबीटी के पूर्व मुखिया चौधरी और सतर्कता आयुक्त के रूप में इंडियन बैंक के पूर्व सीएमडी टी एम भसीन की नियुक्ति को चुनौती दी हुई है। चौधरी को सीवीसी नियुक्त किए जाने के सरकार के कदम पर कड़ी आपत्ति जाहिर करते हुए जेठमलानी ने उनकी योग्यता पर सवाल उठाया था और राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र भी लिखा था।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button