मात्र 7600 रुपये में बिक गई मां की ममता….

- in ज़रा-हटके

कहते हैं प्यार का सबसे अच्छा उदाहरण मां है जिसकी ममता के साए में उसका लाडला हमेशा खुद को सुरक्षित समझता है लेकिन जब उसी मां की आंखों में ममता की जगह पैसों की चमक छा जाए…ऐसा एक मामला पश्चिमी त्रिपुरा से सामने आया है, जहां एक मां ने चंद पैसों के लिए अपने जिगर के टुकड़े को बेच दिया।

इस शख्स को हुई ‘अमिताभ’ की बीमारी, हमदर्दी नहीं बोली लगाने आते हैं लोग

मां

मां ने किया अपने नवजात बच्चे का सौदा

मिली जानकारी के अनुसार, पश्चिमी त्रिपुरा के तेलियामुरा पुलिस स्टेशन स्थित रंगीया तिला गांव में उषा रंजन नाम का एक आदमी अपनी पत्नी दीनमाला और तीन बच्चों के साथ रहता है। उषा पिछले काफी समय से गंभीर बीमारी झेल रहा है, जिसकी वजह से घर के खर्च की जिम्मेदारी दीनमाला के सिर पर आ गई है। हालांकि वह मजदूरी कर अपने परिवार का खर्चा किसी तरह से उठा रही है।

आर्थिक परिशानियों का सामना कर रही दीनमाला ने पिछले 17 अप्रैल को एक और बच्चे को जन्म दिया। इस मौके पर घर में ख़ुशी की जगह चिंताएं छा गई। तभी पड़ोस में रहने वाली एक महिला ने उसे अपना बच्चा एक ऐसे धनवान दंपत्ति को बेच देने की सलाह दी, जिनके बच्चा नहीं था।

घर की आर्थिक तंगी को देखने को दीनमाला ने बिना कुछ सोचे समझे पड़ोसन की बात मान ली और जिस बच्चे को नौ माह अपने कोख में रखा उसे मात्र 7600 रुपये के लिए खोवाई में रहने वाले इस दंपत्ति को बेच डाला। एसडीएम के संज्ञान में मामला आते ही पुलिस ने आरोपी मां के खिलाफ केस दर्ज कर लिया।

 

You may also like

अगर आप भी मान लेगे ये एक शर्त, तो फ्री में शारीरिक संबंध बनाएगी वैश्याएँ

दुनियाभर में कम से कम 15 देश ऐसे