भूकंप ने शकरपुर में चल रहे सैक्स रेकेट का कर दिया भंडाफोड़

सोमवार रात भूकंप ने शकरपुर में चल रहे सैक्स रेकेट का भंडाफोड़ कर दिया। भूकंप के झटके आने के बाद एक मकान की पहली मंजिल की बालकनी से दो लड़कियों को कुछ लोगों ने कूदकर भागते हुए देखा। कुछ देर बाद इस फ्लैट से किसी महिला के चीखने की आवाजें आने लगीं। स्थानीय निवासियों का कहना है कि कुछ महीने से इस फ्लैट में देह व्यापार का धंधा चल रहा था। हालांकि, पुलिस ने इससे इनकार किया है।भूकंप ने शकरपुर में चल रहे सैक्स रेकेट का कर दिया भंडाफोड़मामला जब शकरपुर पुलिस के पास पहुंचा तो उन्होंने खुद को पति-पत्नी बताया। पीड़ित महिला की शिकायत पर उसके कथित पति को सीआरपीसी की धारा-107/151 में बंद कर दिया गया। सोमवार रात 10:35 बजे आए भूकंप के कारण ज्यादातर लोग घरों से बाहर निकलकर सड़कों पर आ गए थे। कुछ देर बाद जैसे ही लोग अपने-अपने घरों के अंदर जाने लगे, उन्होंने एक फ्लैट की बालकनी से दो लड़कियों को कूदकर भागते हुए देखा। लोगों को लगा कि दोनों भी भूकंप के झटकों से डरकर बालकनी से कूदी हैं। कुछ ही देर में इस फ्लैट के अंदर से महिला के चीखने-चिल्लाने की आवाजें आने लगीं। आसपास रहने वाले लोग जब इस फ्लैट के बाहर पहुंचे तो उन्होंने देखा कि एक शख्स फ्लैट के अंदर महिला को बुरी तरह से पीट रहा है। महिला बार-बार उसके चंगुल से छूटकर दरवाजा खोलकर बाहर भागने की कोशिश कर रही थी, लेकिन वह शख्स हर बार उसे अंदर की तरफ खींच लेता था। लोगों ने पुलिस को कॉल कर दी।

पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने फ्लैट के अंदर से पीड़ित महिला और उसकी पिटाई करने वाले शख्स को हिरासत में ले लिया और उन्हें थाने ले गई। मौके पर मौजूद लोगों ने पुलिस को बताया कि हिरासत में लिए गए दोनों खुद को पति-पत्नी बताते थे। उन्होंने फ्लैट में कई लड़कियों को भी रखा था। दोनों मिलकर यहां देह-व्यापार का धंधा करते थे। अंधेरा होते ही लोगों का आना-जाना शुरू हो जाता था।

डीसीपी (ईस्ट) ओमबीर सिंह का कहना है कि उन्हें मौके पर देह-व्यापार होने के कोई सबूत नहीं मिला। पुलिस ने इस बात को भी मानने से इनकार कर दिया कि इस फ्लैट से दो लड़कियां कूद कर भागी थीं। महिला ने अपने पति पर पिटाई करने का आरोप लगाते हुए लिखित शिकायत दी है, जिस पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ कानून के मुताबिक ऐक्शन लिया है।
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Copy is not permitted !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com