बिहार के चर्चित पटना सेक्‍स रैकेट में एक आरजेडी MLA पर लटक रही गिरफ्तारी की तलवार…

बिहार के चर्चित पटना सेक्‍स रैकेट में राष्‍ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के एक विधायक पर शिकंजा कसता दिख रहा है। उन्हें कभी भी गिरफ्तार किया जा सकता है। पीड़ित नाबालिग लड़की ने कोर्ट में दिए अपने बयान में उनका नाम लिया है। विदित हो कि इसके पहले आरजेडी के ही एक तत्‍कालीन विधायक राजबल्‍लभ यादव की सेक्‍स रैकेट में संलिप्‍तता सामने आई थी। उस मामले में विधायक को सजा हो चुकी है।

Loading...

यह है मामला

विदित हो कि बीते 18 जुलाई को पटना में संचालित सेक्स रैकेट से भागकर भोजपुर पुलिस के पास पहुंची एक नाबालिग लड़की ने बताया था कि उसे पटना में एक इंजीनियर व एक विधायक के आवास पर भेजा जाता था। आवास नंबर के आधार पर आरोप के घेरे में आए राष्‍ट्रीय जनता दल (आरजेडी) विधायक ने सफाई देते हुए अपनी संलिप्‍तता से इनकार भी किया था, लेकिन गिरफ्तार सेक्‍स रैकेट संचालिका अनिता देवी ने लडकी को विधायक आवास पर भेजे जाने की बात स्वीकार की थी। इसके बाद करीब एक महीने तक शांत पड़ा यह मामला पीड़िता के कोर्ट में दिए बयान के बाद फिर चर्चा मेें है।

कोर्ट में दिए बयान में लिया विधायक का नाम

इस चर्चित सेक्स रैकेट कांड में पीड़िता ने दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 164 के तहत दोबारा कोर्ट में दर्ज कराए गए बयान में विधायक का नाम लिया। सोमवार की शाम कांड के अनुसंधानकर्ता इंस्‍पेक्‍टर चंद्रशेखर गुप्ता ने आवेदन देकर कोर्ट से सीलबंद लिफाफे में बयान की कॉपी प्राप्त की। इसके बाद सीधे एसपी कार्यालय जाकर उन्‍होंने सीलबंद लिफाफे को सौंप दिया।

भोजपुर के एसपी सुशील कुमार ने बताया कि पहले पीडि़ता ने धारा 161 और 164 के तहत बयान में किसी विधायक विशेष का नाम नहीं लिया था। हालांकि, चार दिन पहले एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें पीडि़ता ने एक विधायक का नाम लिया था। उसकी जांच का आदेश कांड के अनुसंधानकर्ता और डीएसपी को दिया गया था। एसपी ने बताया कि इसके अलावा उन्‍होंने अपनी पर्यवेक्षण रिपोर्ट में भी पीड़िता का दोबारा बयान दर्ज कराने का आदेश दिया था।

आरोप लगने के बाद विधायक दे चुके सफाई

एसपी ने फिलहाल आरोपित विधायक का नाम बताने से इनकार किया। हालांकि, इस मामले में अभी तक समाने आए तथ्‍यों को मिलाकर देखें तो वे आरजेडी के एक कद्दावर विधायक हैं। खास बात यह है कि उन्‍होंने आरोप लगने के बाद अपनी सफाई भी दी थी कि पटना स्थित अपने विधायक आवास पर वे नहीं जाते, वहां उनके लोग रहते हैं।

अब विधायक को कभी भी गिरफ्तार कर सकती पुलिस

बहरहाल, इस मामले में आरा पुलिस रैकेट की संचालिका अनीता, संचालक संजय यादव, दलाल संजीत के साथ आरोप के घेरे में आए इंजीनियर अमरेश को जेल भेज चुकी है। विधायक समेत अन्य रसूखदारों के बारे मेंं छानबीन चल रही है। सीआईडी भी अलग से तफ्तीश कर रही है। अब पुलिस कोर्ट में विधायक के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट के लिए अर्जी देगी।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com