बिना नंबर बदले पोर्ट करें रिलायंस जियो की सिम

अगर अब तक आपने जियो की सिम नहीं ली तो आपके लिए अच्छी खबर है। खबर यह है कि अब जियो की मुफ्त सेवा का लाभ लेने की इच्छा रखने वाले उपभोक्ता अपने पुराने नंबर को बदले बिना ही जियो में पोर्ट कर सकते हैं। तो अब आपको जियो की 4जी सेवा के लिए नया सिम या नया नंबर लेने की जरूरत नहीं है।इसके लिए सिर्फ आपको सिर्फ अपने पुराने नंबर को पोर्ट करके जियो में तब्दील करना है।jio-sim

PORT लिखकर करें 1900 पर एसएमएस

इसके लिए उपभोक्ताओं को सबसे पहले अपने मौजूदा टेलीकॉम ऑपरेटर को नंबर पोर्ट आउट करने की जानकारी देनी होगी। इसके लिए आपको PORT लिखकर 1900 पर एसएमएस करना होगा। इसके जवाब में आपको 1901 नंबर से यूनिक पोर्टिंग कोड मिलेगा। इसकी वैधता 15 दिन की होगी।

पुराने सिम लेकर जाएं रिलायंस स्टोर

इस प्रक्रिया को पूरी करने के बाद अब आप किसी भी रिलायंस मोबाइल स्टोर या रिटेलर के पास जाएं। यहां पर कस्टमर एप्लिकेशन फॉर्म भरने के दौरान आपको पोर्टिंग कोड भी डालना होगा। इसके साथ जरुरी कागजात (आईडी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ और एक पासपोर्ट फोटो) जमा करवाएं। इसके जवाब में आपको रिलायंस की ओर से एक रिलायंस जियो सिम कार्ड दिया जाएगा। एक्टिवेट होने के बाद यह सिम आपके पुराने नंबर का इस्तेमाल करेगा और आपका पुराना सिम हमेशा के लिए बंद हो जाएगा।

बस 19 रुपए का लगेगा चार्ज

आम तौर पर रिलायंस जियो सिम को एक्टिवेट होने में सात दिन का वक्त लग सकता है। इसके अलावा, आपको 19 रुपए का चार्ज लगेगा। पोर्ट करवाने के दौरान संभव है कि आपका नंबर दो-तीन घंटे के लिए काम ना करे।ऐसा रिलायंस जियो सिम एक्टिवेट होने से पहले होगा। जैसे ही आपके मौजूदा सिम पर नो सर्विस का मैसेज दिखने लगे, तो आप अपने फोन में रिलायंस जियो का सिम लगा दें। एक बार पोर्ट करवाने के बाद जिय सिम एक्टिवेट हो जाना चाहिए। ध्यान रहे कि नंबर पोर्ट करवाने के 90 दिनों तक आप किसी और टेलीकॉम ऑपरेटर में फिर से पोर्ट नहीं कर सकते।

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button