बादल और मंडेला की तुलना, मोदी की आलोचना, छिड़ी नई बहस

narendra-modi-561b21c5c8a7d_exlst (1)पंजाब:  नेल्सन मंडेला से एक मुख्यमंत्री की तुलना करना नरेंद्र मोदी को महंगा पड़ रहा है। हर कोई उनकी आलोचना कर रहा। एक कार्यक्रम के दौरान नरेंद्र मोदी की जुबान ऐसी फिसली कि उन्होंने पंजाब में अकाली दल नेता प्रकाश सिंह बादल की तुलना दक्षिण अफ्रीका में रंगभेद के खिलाफ लड़ने वाले नेल्सन मंडेला से कर दी।

रविवार को लोकनायक जयप्रकाश नारायण की 113वीं जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम में पीएम ने कहा कि बादल साहब भारत के नेल्सन मंडेला हैं। उन्होंने राजनीतिक कारणों से जेल में कई साल बिताए हैं।

प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से यह बयान ट्विटर पर भी पोस्ट किया गया। हालांकि यह तुलना विपक्षी पार्टियों समेत कई लोगों को रास नहीं आई है। पीएमओ की पोस्ट के बाद ही माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर #YoBadalSoMandela हैशटैग ट्रेंड में आ गया।

मोदी ने कहा था कि बादल को आजाद भारत में विभिन्न राजनीतिक कारणों से संघर्ष करते हुए करीब दो दशक जेल में बिताने पड़े। वह महान नेता हैं। मोदी के इस बयान को आलोचना और कटाक्ष का सामना करना पड़ रहा है। कई लोगों ने हैरानी भी जताई है।

पीएम मोदी की ओर से मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल को आजाद भारत का नेल्सन मंडेला बताए जाने पर लोकसभा में कांग्रेस के उप नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एतराज जताया है। उन्होंने कहा है कि इस बार प्रधानमंत्री की जुबान फिसली है। वास्तव में उन्हें यह नहीं पता कि वह क्या कह गए, या फिर उन्हें नहीं पता कि वह क्या कह रहे हैं।कैप्टन में कहा कि यदि मोदी वास्तव में ऐसा कह रहे हैं, तो यह नेल्सन मंडेला का अपमान है। मंडेला ने दक्षिण अफ्रीका में रंगभेद के खिलाफ अपने तरीके से लड़ाई लड़ी और जीत भी हासिल की। कैप्टन ने कहा कि मंडेला ने रंगभेद के खिलाफ लड़ते हुए 27 साल जेल में बिताए। जबकि बादल जेल में 27 माह भी नहीं रहे।

उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि यदि मोदी वास्तव में समझते हैं कि बादल आजाद भारत के मंडेला हैं, तो फिर उन्हें यह भी लगता होगा कि मंडेला की तरह बादल को भारत रत्न या नोबेल पुरस्कार भी मिलना चाहिए। उन्हें इस दिशा में कोशिश करनी चाहिए।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सवाल उठाया है, ‘बादल भारत के नेल्सन मंडेला हैं?’ वहीं आम आदमी पार्टी से जुड़े कुमार विश्वास ने ट्वीट किया कि पंजाब को अपने निजी मंडेला मुबारक हों।स्वर्गीय मंडेला को मरणोपरांत एक और नोबेल पुरस्कार मिल गया है। कांग्रेस नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने लिखा कि आज नेल्सन मंडेला की फिर से मौत हो गई। उनके साथ तुलना किया जाना शर्मनाक है।

कौन कहता है कि पीएम के पास सेंस ऑफ ह्यूमर नहीं है। उम्मीद करते हैं कि मंडेला की तरह बादल को भी नोबेल या भारत रत्न मिल जाए।
– कैप्टन अमरिंदर सिंह, पंजाब के पूर्व सीएम और लोकसभा में कांग्रेस के उप नेता

कौन कहता है… बादल की तुलना मंडेला से की? हाहा …।
– विशाल ददलानी, संगीतकार

बादल के शासनकाल में किसान मर रहे हैं, 70 फीसदी युवा नशे के शिकार हो गए हैं और मोदी कहते हैं कि बादल भारत के मंडेला हैं।
-प्रताप बाजवा, पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button