फ्रांसीसी सुरक्षा बलों ने सैन्य हेलिकॉप्टरों से माली में अल-कायदा के जिहादी कमांडर व अन्य आतंकियों को मार गिराया

फ्रांसीसी सुरक्षा बलों और सैन्य हेलिकॉप्टरों ने अफ्रीकी देश माली में अल-कायदा से जुड़े एक जिहादी कमांडर व कई अन्य आतंकियों को मार गिराया है। फ्रांसीसी सेना ने शुक्रवार को यह घोषणा की। इससे पहले 30 अक्टूबर को भी फ्रांस की सेना ने यहीं सैन्य कार्रवाई कर 50 से ज्यादा आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया था। 

Ujjawal Prabhat Android App Download

फ्रांसीसी सैन्य प्रवक्ता कर्नल फ्रेड्रिक बार्बरी ने शुक्रवार को संवाददाताओं को बताया कि मंगलवार को चलाए गए अभियान में आरवीआईएम इस्लामिक कट्टरपंथी समूह के सैन्य प्रमुख बाह अग मूसा को मार गिराया गया। यह संगठन संयुक्त राष्ट्र द्वारा प्रतिबंधित संगठनों की सूची में शामिल है। इसे माली में मालियन और अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा बलों पर कई हमलों के लिए जिम्मेदार माना जाता है।

बार्बरी ने कहा कि निगरानी करने वाले ड्रोनों ने पूर्वी माली के मेनका क्षेत्र में मूसा के ट्रक की पहचान करने में फ्रांसीसी बलों की मदद की। इसके बाद हेलिकॉप्टरों के जरिए हमला किया गया। फिर 15 फ्रांसीसी कमांडो को घटनास्थल पर भेजा गया।

उन्होंने कहा कि ट्रक में सवार सभी पांच लोगों की मौत हो गई। फ्रांसीसी रक्षा मंत्री के एक बयान में कहा गया है कि मूसा समूह में भर्ती किए गए नए जिहादियों को प्रशिक्षित करता था। हाल के कुछ हफ्तों में माली में फ्रांसीसी सुरक्षा बलों की कई कार्रवाई में कई संदिग्ध आतंकवादियों को मार गिराया गया है।

बता दें, 2013 में माली में विद्रोह के बाद से फ्रांस व अन्य देशों की अंतरराष्ट्रीय सेना वहां शांति बहाली के लिए तैनात है। फ्रांस के 5 हजार से ज्यादा व संयुक्त राष्ट्र के 13 हजार सैनिक वहां तैनात, जो माली से आतंकियों के सफाए में जुटे हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button