फरमान: सरकारी बसों में नहीं बजेंगे अश्लील गीत

पंजाbus-punjab-bus-5396c9abaabff_exl-300x250ब सरकार की बसों में सफर करने वाली महिलाओं के लिए राहत की खबर है। सरकार ने बसों में अश्लील, लचर, भड़काऊ गीत चलाने पर पाबंदी लगा दी है। यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू होगा।

ट्रांसपोर्ट मंत्री अजीत सिंह कोहाड़ ने सरकारी बसों में अश्लील गीत बजाने पर रोक लगा दी है। इस संबंध में विभागीय अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। कोई भी ड्राइवर अगर इस आदेश का उल्लंघन करता पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

कोहाड़ ने कहा कि सरकार लोगों को सर्वश्रेष्ठ ट्रांसपोर्ट सेवा देने को वचनबद्ध है। बसों में लचर गाने चलाए जाने की शिकायतें आ रही थीं। जिसके बाद अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि लोकहित में इस पाबंदी को यकीनी बनाएं। उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारियों की एक विशेष कमेटी बनाई जाएगी, जोकि अचानक बसों की चेकिंग कर यह देखेगी कि बसों में भड़काऊ गाने तो नहीं चलाए जा रहे हैं।

बसों में अश्लील और तेज आवाज गीतों से न सिर्फ मानसिक प्रदूषण फैलता है। बल्कि, ड्राइवरों का ध्यान भंग होने से सड़क हादसे भी होते हैं। ऐसा संगीत पंजाब के अमीर विरसे के खिलाफ है। पंजाबी गीतों में अश्लीलता पर नजर रखने के मकसद से ही पिछले दिनों राज्यस्तरीय सेंसर बोर्ड का गठन किया गया है।

उन्होंने लोगों से अपील की कि आदेश के बावजूद अगर कोई ड्राइवर बस में अश्लील गीत चलाता है तो उनसे शिकायत करें। ट्रांसपोर्ट सुविधा में भी कोई परेशानी आती है तो उनसे संपर्क कर सकते हैं।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button