प्रवासी श्रमिकों के लिए सीएम योगी का बड़ा कदम, मुफ्त में किए जाएगे…

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि प्रवासी कामगारों व श्रमिकों को उनके घर तक मुफ्त पहुंचाने के लिए केंद्र व राज्य सरकार ने ट्रेन व बस की व्यवस्था की है। यूपी में रोज दो लाख लोग आ रहे हैं सभी प्रवासियों का यूपी में स्वागत है। परिवार व अपने हितों के लिए कोई भी पैदल या अवैध असुरक्षित वाहनों से यात्रा न करे। इसके बारे में सभी को जागरूक भी किया जाए।

मुख्यमंत्री को बुधवार को टीम-11 के साथ बैठक में बताया गया कि प्रदेश में अब तक 838 श्रमिक एक्सप्रेस से 14 लाख से अधिक लोगों को लाया गया है अगले दो दिनों में 206 ट्रेनें और आएंगी। इस प्रकार 1,044 ट्रेनों की व्यवस्था की गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी मंडलायुक्त श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से आने वालों को बस से उनके गृह जिले में भेजने की नियमित जानकारी लें। राज्य सड़क परिवहन निगम की 12000 बसें ऐसे लोगों को उनके गृह जिले तक पहुंचा रही हैं। हरियाणा व राजस्थान से 400 बसें श्रमिकों को लेकर आई हैं।

रोजगार के लिए कार्ययोजना बनाएं

प्रवासी कामगारों-श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त और कृषि उत्पादन आयुक्त को कार्ययोजना तैयार करने का निर्देश दिया गया। औद्योगिक विकास विभाग व एमएसएमई विभाग ऐसे कार्यक्रम तैयार करे, जिससे इनके लिए रोजगार का प्रबंध हो सके। मनरेगा, ओडीओपी, विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना, महिला स्वयं सहायता समूह, डेयरी, दुग्ध समितियों, खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों, गौ-आश्रय स्थल, पौध नर्सरी, कॉमन सर्विस सेंटर और स्कूल-कॉलेजों में रोजगार की संभावनाएं देखी जाए। प्रवासी कामगारों-श्रमिकों को रोजगार देने के लिए इनकी दक्षता की जानकारी ली जाए। इनकी स्किल मैपिंग जारी रखा जाए।

…तो ट्विटर पर बोले लोग ‘योगी की हजार ट्रेन’

कोरोना वायरस महामारी के कारण देशभर में हुए लागू लॉकडाउन के बाद से अब तक उत्तर प्रदेश में पहुंचने वाली श्रमिक ट्रेनों का आंकड़ा 1000 के पार पहुंच रहा है। इसी बीच बुधवार शाम ट्विटर इंडिया पर हैशटैग कर लोग बोले ‘योगी की हजार ट्रेन’ बुधवार को लगातार यह टॉप में ट्रेंड करता रहा। इसतके लाकब मजदूरों को वापस लाए जाने के लिए किए जा रहे प्रयासों की सराहना करते हुए नज़र आए। यूजर्स श्रमिकों की घर वापसी से जुड़ी जानकारियों को ट्वीट और रिट्वीट कर रहे थे जिसके कारण हैश टैग ‘योगी की हजार ट्रेन’ टॉप में ट्रेंड करता रहा। योगी आदित्यनाथ ऑफिस ने ट्वीट करते हुए लिखा कि ‘मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार अपने सभी नागरिकों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है’। अब तक प्रदेश में 838 श्रमिक एक्सप्रेस ट्रेनों से 14 लाख से अधिक प्रवासीजन आ चुके हैं। अगले दो दिन में 206 ट्रेनें और आएंगी। इस प्रकार 1,044 ट्रेनों की व्यवस्था कर दी गई है।

नई स्टार्टअप नीति बनाकर रोजगार दें

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कृषि, स्वास्थ्य, शिक्षा व अन्य महत्वपूर्ण क्षेत्रों के लिए एक नई स्टार्टअप नीति प्रदेश में बने, जिससे प्रदेश का युवा जुड़ सके और जॉब की संभावनाओं को बल मिल सके। मुख्यमंत्री ने बुधवार को उत्तर प्रदेश स्टार्टअप फंड का शुभारंभ किया और सिडबी को 15 करोड़ रुपये की पहली किस्त सौंपी। प्रदेश सरकार और सिडबी के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर हुआ है। मुख्यमंत्री ने बुधवार को पांच कालीदास मार्ग पर आयोजित कार्यक्रम में कहा कि इस समय बड़ी संख्या में प्रवासी कामगार और श्रमिक यूपी में आए हैं। हमें उनकी स्किल के अनुसार उन्हें रोजगार उपलब्ध कराना है। उपमुख्यमंत्री डा. शर्मा ने कहा कि सिडबी के साथ जो समझौता हुआ है, उससे निश्चित रूप से स्टार्टअप की स्थापना में गति आएगी।

गतिविधियों का दायरा बढ़ा

मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार की नई गाइडलाइन के आधार पर लॉकडाउन में अनुमन्य गतिविधियों का दायरा बढ़ाने का निर्देश दिया। भीड़ एकत्र न होने दें, बाजार, ग्रामीण इलाकों, हाई-वे, एक्सप्रेस-वे पर पर पेट्रोलिंग बढ़ाई जाए। उन्होंने कहा कि किसानों से गेहूं की खरीद की जा रही है। किसानों की सुविधा के लिए प्रदेश में क्रय केंद्र स्थापित किए गए हैं। इसका प्रचार-प्रसार किया जाए।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button