पीएम मोदी के ‘कैशलेस इंडिया’ टारगेट में ‘रोड़ा’ बन रहे भाई प्रहलाद मोदी..

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के भाई और गुजरात में राशन दुकान विक्रेता संघ के अध्यक्ष प्रहलाद मोदी ने एक बार फिर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।  इस बार उन्होंने नोटबंदी और विमुद्रीकरण के बाद जन वितरण प्रणाली की दुकानों में डेबिट कार्ड से भुगतान की सुविधा के लिए स्वाइप मशीन लगाने की मुहिम का जोरदार विरोध किया है। 

पहले भी कई मौकों पर मोदी सरकार और गुजरात सरकार का विरोध कर चुके प्रहलाद मोदी ने यहां पत्रकारों से कहा कि सरकार को ऐसी मशीने लगाने के लिए राशन दुकानदारों पर दबाव नहीं बनाना चाहिए। इनकी कीमत 25 हजार रूपये है तथा इसके अलावा इन्हें लगाने पर मासिक भुगतान भी करना होगा। 

उन्होंने कहा कि राशन दुकानदार इस भार को वहन नहीं कर सकते। अगर सरकार इसे लगाना चाहती है तो उसे निशुल्क लगाना चाहिए। 

पिछले साल मोदी सरकार के खिलाफ दिल्ली में जंतर मंतर पर धरना दे चुके प्रहलाद मोदी ने कहा कि कुछ ही समय पहले इन दुकानों को बायोमेट्रिक प्रणाली से जोडने के लिए कम्प्यूटर और अन्य उपकरण खरीदने का भार दुकानदारों ने उठाया है और अब इसके ठीक बाद नया भार उन पर डालना ठीक नहीं है। 

अखिल भारतीय राशन दुकानदार महासंघ के उपाध्यक्ष भी रहे मोदी ने कहा कि वह स्वाइप मशीन के मामले में दुकानदारों पर किसी तरह की जोर जबरदस्ती का विरोध करेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार कैशलेश अर्थव्यस्था चाहती है पर इसे समझना चाहिए कि राशन की दुकानों पर ऐसे लोग आते हैं जिनमें से अधिकतर के पास डेबिट अथवा क्रेडिट कार्ड होता ही नहीं।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button