पीएम मोदी का महाफैसला “सोने की चिड़िया” को बनायेंगे “धनकुबेर”

पीएम मोदी का महाफैसला “सोने की चिड़िया” को बनायेंगे “धनकुबेर”…… कई लोग सोच रहे होंगे कि 500 और 1000 के नोट बैन होने के बाद हिंदुस्तान की झोली में क्या आने वाला है। ये सवाल आज हर किसी की जुंबा पर है। इस सवाल का जवाब हम आपको देने जा रहे हैं। ये ऐसी खबर है कि आप भी पढ़कर अपने मुल्क पर नाज़ करने लगेंगे। साथ ही पीएम मोदी के फैसले और पॉलिसी के भी आप दीवाने हो जाएंगे। आप बस इतना जान लीजिए कि 500 और 1000 के नोट बैन कराने से सरकार की झोली खजाने से भरने जा रही है। इतना खजाना देश की तरक्की और अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए काफी है। अब आपको बताते हैं कि कैसे हिंदुस्तान एक बार फिर से सोने की चिड़िया बनने जा रहा है। साथ ही आपको ये भी बताएंगे कि कैसे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक फैसला सबकी किस्मत बदलने जा रहा है।

पीएम मोदी का महाफैसला "सोने की चिड़िया" को बनायेंगे "धनकुबेर"

एक रिपोर्ट आई है जो बता रही है कि 500 और 1,000 के नोट बैन करने के बाद से केंद्र सरकार और राज्य सरकार को टैक्स बोनांजा मिलने के जबरदस्त आसार हैं। बताया जा रहा है कि देशभर में कई लोग ऐसे हैं जो अपने सरप्लस कैश को अपनी इनकम के तौर पर पेशकरने के बाद उसपर 30 फीसदी टैक्स दे सकते हैं। इसके अलावा ये भी कहा जा रहा है कि राज्य की सरकारों के वैल्यू एडेड टैक्स यानी वैट में बढ़ोतरी हो सकती है। दरअसल बेकार पड़े कैश को बदलने के लिए खरीददारी ज्यादा बढ़ जाती है और इस वजह से बाजार में प्रोडक्ट्स की सेल भी बढ़ जाती है। इस वक्त लोग टैक्स के जानकारों को फोन पर पूछ रहे हैं कि आखिर अपने पास पड़े रुपये को कैसे बचाया जाए। इस बीच टैक्स एक्सपर्ट भी इस बारे में कुछ बातें बता रहे हैं।

पीएम मोदी का महाफैसला "सोने की चिड़िया" को बनायेंगे "धनकुबेर"इस वक्त कुछ टैक्स एक्सपर्ट्स का ये भी कहना है कि ये भी एक तरीका हो सकता है कि सेल्स को ज्यादा दिखाकर और एडवांस टैक्स देकर बैंक अकाउंट में कैश डिपॉजिट किया जा सकता है। आपकरो ये भी बता दें कि देश में इनकम टैक्स की अधिकतम दर 30 परसेंट है। कहा ये भी जा रहा है कि आईटी एक्ट के सेक्शन 270ए को पढ़ने के बाद ये नजर नहीं आता कि किसी के बैंक अकाउंट में 10 लाख रुपये से ज्यादा कैश डिपॉजिट करने पर 200 फीसदी जुर्माना लगेगा। इस बीच ज्यादा से ज्यादा लोगों के दिलों में ये ही ख्याल है कि कैसे अपने कैश को बचाया जाए और बताया ये जा रहा है कि इस वक्त अपनी संपत्ति का खुलासा करना ही सबसे आसान रास्ता है क्योंकि आने वाले वक्त में आपको ये बात छिपाने पर बड़ा हर्जाना भरना पड़ सकता है।

इस वजह से देशभर के ज्यादा से ज्यादा लोग इस वक्त सरकार के नक्शे कदम पर चलने का मन भी बना चुके हैं। बताया जा रहा है कि इस फैसले के बाद से भारत सरकार का खजाना टैक्स से भर जाएगा। आपको बता दें कि 8 नवंबर की देर शाम को पीएम मोदी ने देश के नाम संदेश दिया था और कहा था कि 8 नंवबर रात 12 बजे के बाद से देशभर में 500 और 1000 रुपये के नोट बैन कर दिए जाएंगे। इसके बाद से पूरे देश में अफरा-तफरी का माहौल बना हुआ है। लोग इस वक्त अपने घर में पड़ा कैश बैंक में जमा कराने को लेकर लंबी लंबी कतारों में खड़े दिख रहे हैं। कुल मिलाकर इसका सीधा फायदा देश की अर्थव्यवस्था और मोदी सरकार को मिल रहा है। कहा जा सकता है आने वाले वक्त में भारत का खजाना फिर से लबालब हो जाएगा।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button