अपने ही पार्टी नेताओं पर भड़के अमित शाह, कहा- ये मनमोहन की सरकार नहीं

amitshahनई दिल्लीः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार को भाजपा राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक में नोटबंदी को कामयाब बनाने की अपील करते हुए कहा कि सरकार में बैठने वाले लोग वरिष्ठ हैं। उन्होंने सोच-समझ कर फैसला किया है। अब जनता तक इसे ले जाने की जिम्मेदारी हमारी है।

बड़ी खबर: ऐक्सिस बैंक होगा बंद, मोदी सरकार ने तैयार किया ताला

देश बदलने के लिए कठोर फैसले
भाजपा मुख्यालय में हुई इस बैठक में राज्य प्रभारियों ने शाह को अपनी रिपोर्ट सौंपी। बैठक में कुछ नेताओं ने कहा कि चुनाव वाले राज्यों में लोगों को नक़दी नहीं मिल पा रही है। नाेटबंदी की वजह से पीएम माेदी के साथ-साथ पार्टी की छवि भी धूमिल हो रही  है। इसलिए सरकार काे लोगों का विश्वास जीतने के लिए नाेटबंदी से हाेने वाली दिक्कताें में तेजी से सुधार करना हाेगा। नेताओं की इन बाताें पर अमित शाह अपना अापा खाे बैठे और उन्हाेंने दो टूक शब्दों में कहा कि ये सरकार मनमोहन सिंह की सरकार नहीं है। देश बदलने के लिए कठोर फैसले करने होते हैं। 

जनता मोदी के फैसले के साथ
हालांकि इस बैठक में अधिकांश बीजेपी नेताओं ने कहा कि तकलीफ के बावजूद जनता प्रधानमंत्री मोदी के फैसले के साथ हैं। अमित शाह ने कहा कि पार्टी को जो जनादेश मिला है, वह लोगों के लिए सिर्फ वैसा करने के लिए नहीं है, जो केवल अच्छा दिखे, बल्कि ऐसा करने के लिए है, जो लोगों के लिए वाकई अच्छा है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी का सकारात्मक प्रभाव है, जो आने वाले समय में नजर आएगा। उन्होंने डिजिटल एवं मोबाइल लेनदेन को लेकर जागरुकता अभियान राज्यों में ले जाने की जरूरत पर बल दिया।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button