पान के पत्ते में छिपे ये गुण जानकर खुल जाएगा बंद अक्ल का ताला!

benifits-of-betel-leaf-55fa4de9089d8_lपान कई बीमारियों का नाश करता है। इसमें कई तरह के एंटीसेप्टिक गुण छिपे हैं। जानिए किस बीमारी में कैसे असरदार हैं पान के पत्ते…

आश्चर्य होगा आपको यह जानकर कि ब्रोनकाइटिस को पान के पत्तों से ठीक किया जा सकता है। इसके लिए 7 पान के पत्ते दो-तीन कप पानी में रॉक सुगर के साथ उबाल लें। जब पानी आधा रह जाए, तब उबालना बंद कर दें। इसे दिन में तीन बार पीएं।

 

कफ की समस्या है, तो पान के पत्तों का पानी पीएं। इसके लिए लगभग 16 पत्ते पानी में उबाल लें। कम से कम 4 गिलास पानी लें। पानी को तब तक उबालें, जब तक कि वह आधा न रह जाए। इस पानी का सेवन करने से कफ की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा।

 

मुहांसों को दूर करने में भी पान के पत्ते मददगार हैं। इसके लिए पत्तों को पीस लें। पानी में मिलाकर उबाल लें। गाढ़े मिश्रण को फेसपैक की तरह लगाएं।

 

मुहांसों को दूर करने में भी पान के पत्ते मददगार हैं। इसके लिए पत्तों को पीस लें। पानी में मिलाकर उबाल लें। गाढ़े मिश्रण को फेसपैक की तरह लगाएं।

 

 शिशु को फीड करवाने में समस्या आ रही हो, तो पान के पत्तों को नारियल तेल लगाकर हल्का सा गर्म कर लें। गुनगुना होने पर स्तनों के आस-पास रखें। सूजन दूर हो जाएगी और स्तनपान करवाने में दिक्कत नहीं होगी।

 

शरीर से दुर्गंध ज्यादा आती है, तो पान के पत्तों का उबला पानी पीएं। कुछ दिनों में बॉडी ओडर की समस्या से निजात मिल जाएगी। मसूड़ों से खून आता है, तो दो कप पानी में पान के पत्तों को उबाल लें। इस पानी कुल्ला करें। ऐसा कुछ दिनों तक करेंगे, खून आना बंद हो जाएगा। इसके अलावा मुंह से आती बदबू दूर करने का भी यह अच्छा उपाय है। इसके लिए पान के पत्ते चबाएं।

 

 अचानक जल जाएं, तब पान के पत्तों का पीसकर लेप बनाकर लगा लें। बाद में धो डालें। ऊपर से शहद लगा लें। जलन शांत हो जाएगी। इसी तरह आंखों में जलन होने पर 4-5 पान के पत्तों को पानी उबाल लें। इस पानी से छींटे मारें। आंखों को काफी आराम मिलेगा।

 

नकसीर की समस्या हो, तो पान के पत्तों को सूंघें। काफी आराम मिलेगा। इसके अलावा खुजली या दानों की समस्या है, तो पान के पत्तों के उबला पानी तैयार करें। ठंडा होने पर इस पानी से नहा लें। छालों का तोड़ भी पान के पत्तों में छिपा है। छाले होने पर पान चबाएं। फिर कुल्‍ला कर लें। ऐसा दिन में दो बार करें।

 

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button