पानीपत में यातायात के इंतजाम नाकाफी के चलते परीक्षा देने आए अभ्यर्थी बैठे रेलवे ट्रैक पर…

 हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग (HSSC) क्लर्क परीक्षा के दौरान रेलवे और रोडवेज के नाकाफी प्रबंध अभ्यर्थियों और दूसरे यात्रियों पर भारी पड़ गए। पानीपत रेलवे स्टेशन पर एकता ट्रेन में भीड़ के कारण जब जगह नहीं मिली तो कुछ तो इंजन पर सवार हो गए, जबकि कई लोग ट्रेन के आगे ट्रैक पर जम गए। उन्हें हटाने के लिए पुलिस को लाठियां भांजनी पड़ी। बाद में दूसरी ट्रेन का प्रबंध कराने का आश्वासन देकर रात करीब 9:55 बजे ट्रेन को भिवानी के लिए रवाना किया गया। वहीं, हिसार में ट्रेन से गिरकर एक और कैथल में सड़क हादसे में दो सगे भाई की मौत हो गई।

Loading...

गाड़ी नंबर 14796 एकता एक्सप्रेस ट्रेन शाम 4.55 बजे कालका से चलती है औ रात 8.21 बजे पानीपत पहुंचती है। यहां से ट्रेन का चलने का समय रात 8:40 बजे है। रविवार को क्लर्क भर्ती परीक्षा के लिए दूसरे जिलों से हजारों अभ्यर्थी पानीपत पहुंचे थे। परीक्षा के बाद अभ्यर्थी घर वापस जाने को रेलवे स्टेशन पर पहुंच गए। ट्रेन के आते ही सभी छह डिब्बे पूरी तरह से भर गए। वहीं ट्रेन के बाहर इससे भी अधिक अभ्यर्थी रह गए। जब ड्राइवर ने ट्रेन चलानी चाही तो अभ्यर्थी ट्रेन के आगे लेट गए। खुद को रिटायर्ड कर्नल की बेटी बताने वाली भिवानी की बबली, हाई कोर्ट में वकील बताने वाले आदमपुर के राकेश, रोहतक के गुरमीत और अन्य ने ट्रेन के आगे ट्रैक पर जमकर हंगामा काटा।

उन्होंने जीआरपी पानीपत में एसआइ हवा सिंह पर गाली गलौच करने का आरोप लगाया। अंबाला कैंट के तुलसी कुमार ने बताया कि उसका सोमवार को भिवानी में क्लर्क का पेपर है। वह अंबाला से ट्रेन में पानीपत आया था। यहां भिवानी के लिए ट्रेन में जगह नहीं मिली। महम के अजय ने बताया कि उसकी अंबाला में क्लर्क की परीक्षा थी। वह पेपर देकर ट्रेन में पानीपत आ गया। यहां से रोहतक जाने के लिए ट्रेन में जगह नहीं मिली।

दो डीएसपी और दो थानों की पुलिस पहुंची 

यात्रियों के हंगामे के मद्देनजर जीआरपी और आरपीएफ ने लोकल पुलिस से मदद मांगी। इस पर मॉडल टाउन प्रभारी संदीप पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने यात्रियों और अभ्यर्थियों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वे अड़े रहे। डीएसपी वीरेंद्र और प्रदीप भारी पुलिसबल के साथ रेलवे स्टेशन पर पहुंचे। अधिकारियों के समझाने पर भी अभ्यर्थी और यात्री नहीं माने तो पुलिस ने लाठीचार्ज कर ट्रैक करवाया।

महिलाओं को प्राइवेट बसों में भिजवाया

उधर, रेलवे अधिकारियों ने दूसरा रैग (स्पेशल ट्रेन) भेजने का आश्वासन देकर अभ्यर्थियों को शांत किया। एसएस धीरज कपूर ने उत्तर रेलवे के डीआरएम को फोन पर पूरे मामले की जानकारी दी। पहले दिल्ली व अंबाला से डीजल इंजन मंगवाने की बात कही जा रही थी। इसके बाद रोहतक से रैग मंगवाने की कही गई। दोनों डीएसपी और एसएस धीरज कपूर कार्यालय में आ गए। डीएसपी ने जल्द ट्रेन मंगवाने की बात कही। धीरज कपूर ने रात 2 बजे तक ट्रेन आने का जवाब दिया। दोनों पुलिस अधिकारियों ने कहा कि वे इतने लंबे समय तक भीड़ को काबू में नहीं रख सकते। इसके बाद दो प्राइवेट बसों को मंगवाया गया। इनमें महिलाओं को रवाना किया।

पेपर देने जा रहे एक ही परिवार के दो जवान बेटों की मौत

कैथल के जींद रोड बाईपास पर ट्रक के साथ टक्कर होने पर बाइक सवार दो सगे भाइयों की मौत हो गई। दोनों जखौली गांव से अंबाला क्लर्क भर्ती परीक्षा देने के लिए जा रहे थे। दो भाई राजेंद्र और बजिंदर सुबह पांच बजे घर से निकले थे। 23 वर्षीय बजिंदर की शादी हो चुकी थी, जबकि 21 वर्षीय राजेंद्र अविवाहित था।

इधर, हिसार में ट्रेन की खिड़की पर लटके युवक की नीचे गिरने से मौत

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग की ओर क्लर्क भर्ती की लिखित परीक्षा को लेकर ट्रेनें और बसें फुल होकर चल रही हैं, जिस कारण हादसे भी हो चुके हैं। इसी कड़ी में रविवार को फाजिल्का से रेवाड़ी जा रही पैसेंजर ट्रेन में भीड़ के कारण एक युवक खिड़की से लटका था। रास्ते में नीचे गिरने से उसकी मौत हो गई। सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने मृतक के परिजनों को हादसे की सूचना दी। शव का पोस्टमार्टम सोमवार को सिविल अस्पताल में होगा। क्लर्क भर्ती परीक्षा के कारण फाजिल्का-रेवाड़ी ट्रेन में पांव रखने की भी जगह नहीं थी। कई अभ्यर्थी खिड़की से लटके थे। ऐसे में फतेहाबाद के भट्टू कलां कस्बे के गांव बन मंदौरी निवासी भारत भी बवानी खेड़ा जाने के लिए ट्रेन की खिड़की से लटक गया। हिसार स्टेशन से निकलने के बाद ट्रेन जब पूरी स्पीड से जिंदल पुल के नीचे से गुजरी तो खिड़की से लटके भारत का सिर ट्रैक के साथ लगे पोल से टकरा गया। इससे वह नीचे गिर गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *