पाकिस्तान के टॉप न्यूज चैनल्स का पूरे देश में प्रसारण बंद, सेना की भूमिका संदिग्ध

नई दिल्ली: पाकिस्तान का टॉप न्यूज चैनल जियो न्यूज को अपने देश के अधिकांश इलाकों में प्रसारण रोकना पड़ा है. शनिवार को रिपोर्ट्स के मुताबिक, ये जो देखने को मिला है, उसके पीछे मिलिट्री की भूमिका है.रिपोर्ट्स में पाकिस्तान के गृह मंत्री एहसान इकबाल के बयान का जिक्र है. इसमें उन्होंने कहा है कि ये ऑफ एयर पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया रेग्युलेटरी अथॉरिटी( पेम्रा) या सूचना मंत्रालय की ओर से नहीं किया गया था. वहीं, जियो नेटवर्क के सीईओ मीर इब्राहीम रहमान ने बिना किसी पर दोष लगाते हुए मीडिया को बताया, ” हम देश में 80 फीसदी ऑफ द एयर है.”पाकिस्तान के टॉप न्यूज चैनल्स का पूरे देश में प्रसारण बंद, सेना की भूमिका संदिग्ध

मार्च के पहले हफ्ते में जियो न्यूज पूरे देश के आर्मी की छावनियों के इलाकों और इसके आसपास के सेना द्वारा प्रशासित इलाके बंद कर दिया गया था. अब सभी जियो न्यूज चैनल, जिसमें न्यूज, इंटरटेनमेंट और स्पोर्ट्स चैनल पूरे देश में केबल ऑपरेटर्स द्वारा बंद किए जा रहे हैं. पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया रेग्युलेटरी अॅथॉरिटी ने संकेत दिया है कि इसके पीछे उसका कोई कदम नहीं है. अॅथॉरिटी ने केबल ऑपरेटर्स को नोटिस भी जारी किए हैं.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस कदम के पीछे इन चैनलों की आलोचनात्मक कवरेज हो सकती है. इसमें पाकिस्तान में आतंकवाद को वित्तीय पोषण की इस साल वॉच लिस्ट हो सकती है. हाल ही में मीडिया रिपोर्ट्स और आलोचनात्मक लेखों में आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बजवा और उनकी घरेलू और विदेश नीति में प्राथमिकता निशाने पर रही है. इसे बाजवा डॉक्ट्रिन के नाम से जाना जाता है. इससे भी जनरलों में गुस्सा है. इस हफ्त पत्रकारों के हितों की रक्षा करने वाली कमेटी ने भी जियो नेटवर्क पर सेंसरशिप पर चिंता जताई थी.  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

चीन का कर्ज बढ़कर 2,580 अरब डॉलर हुआ

चीन का बढ़ता कर्ज अब 2,580 अरब डॉलर