पंडितजी नहीं… अब गूगल से जानिए अपना भविष्य

phpThumb_generated_thumbnail-11-300x193लखनऊ। अगर आपको सफलता नहीं मिल रही है…आने वाला दिन आपके लिए कैसा रहेगा…यह सब पूछने के लिए आप पंडित के पास जाते है तो अब आपको नहीं जाना पड़ेगा। घर बैठे ही आप अपना भविष्य जान सकते है। अब आप सोंच रहे होंगे ये हाईटेक पंडित जी कौन से हैं…तो बता दे कि गूगल ने अब भविष्य की दुनिया में भी कदम रख दिया है। कंपनी ने हाल ही में बीटागूगल डॉट कॉम नाम से नई वेबसाइट “गूगल फॉर्चून टेलिंग” टैगलाइन के साथ लॉन्च की है। इस वेबसाइट के जरिए गूगल आपके भविष्य को लेकर कई सवालों के जवाब देता है।

ऐसे देगी आपको सवालों के जवाब

गूगल की वेबसाइट से आप दुनिया में आपके लिए रहने की सबसे सुरक्षित जगह, अपने परिवार वालों से मिलने, युद्ध रोकने, शरण देने वाली बेहतर जगह तथा बच्चों को बेहतर भविष्य देने वाली जगहों के बारे में पूछ सकते हैं।

 

google-fortune-telling-55fcf46c2c42a_l

उत्तर जानकर चौंक जाएंगे

बीटा गूगल डॉट कॉम पर जब उपरोक्त प्रश्नों में से कोई एक पूछेंगे तो जवाब सिर्फ एक ही आएगा जो आपको झकझोर सकता है। क्योंकि यह वेबसाइट दुनियाभर के शरणार्थियों के भविष्य को लेकर बनाई गई है। इसमें उनके भविष्य की बातों के बारे में बताया गया है जो आपको सोचने पर मजबूर कर सकती है।

where can i find a safe place?
will i be reunited with my family?
wiil humans ever stop fighting war?

google-fortune-telling-55fcf48824e91_l

ये मिलेगा उत्तर

जैसे ही आप उपरोक्त में से कोई भी प्रश्न इस वेसाइट पर टाइप करते हैं तो सारे प्रश्न अपने आप ही दिखाई देने लगते हैं। जिस प्रश्न पर आपने क्लिक किया या एंटर मारा तो उत्तर आएगा “नि:संदेह हम आपके भविष्य की भविष्यवाण नहीं कर सकते!” लेकिन यही प्रश्न दुनिया में रह रहे 60 मिलियन शरणार्थी रोज अपने आप से पूछते हैं। इसलिए इन लोगों प्रति आपका ध्यान खींचने के लिए यह वेबसाइट बनाई है।

ध्यान खींचने के लिए दिया नोट

गूगल की इस वेसाइट पर उत्तर वाले पेज पर लाल रंगों के अक्षरों में लिखा हुआ आता है कि इस प्रोजेक्ट के तहत सजगता फैलाना चाहते हैं। यूराप में शारणार्थियों की बढ़ रही इस समस्या पर हम राजनैतिक तौर पर ढांचागत समाधान चाहते हैं। कृपया अपना समय, धन और प्यार दुनिया में फैलाएं।

शेयर करने का भी ऑप्शन

गूगल की इस वेबसाइट पर आए उत्तर को फेसबुक और टि्वटर पर शेयर करने का भी आप्शन दिया गया है। फेसबुक और टि्वटर के शेयर बटन के ऊपर लिखा गया है इस कैंपेन के बारे में अपने दोस्तों को बताएं और शारणार्थियों की सहायता करें।

 

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button