नोटबंदी के बाद डिजिटल लेन-देन में हुआ 25 फीसदी तक का इजाफा

केंद्र सरकार की ओर से बीते 8 नवंबर को लिए गए नोटबंदी के फैसले के बाद डिजिटल ट्रांजेक्शन में हर महीने 25 फीसदी का इजाफा देखने को मिला है। संगठित क्षेत्र में कार्ड से लेनदेन के साथ-साथ छोटे व्यापारी व ट्रेडर्स भी डिजिटल भुगतान की ओर बढ़ गए है। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार और आतंकवाद पर लगाम लगाने के लिए नोटबंदी का फैसला लिया था ताकि कैशलेस समाज की स्थापना की जा सके।

अभी-अभी: लोगों ने किया पीएम मोदी का विरोध, दिखाए काले झंडे…

पाइन लैब्स के चीफ एग्जेक्यूटव लोकवीर कपूर का कहना है कि महीने दर महीने हम साप्ताहिक ग्रोथ डेटा चेक कर रहें हें, जिसके मुताबिक हर हफ्ते करीब 5 फीसदी की बढ़ोतरी देखी जा रही है। पाइन लैब्स मर्चेंट आउटलेट पर पीओएस (प्वाइंट ऑफ सेल) मशीनें इंस्टाल्ड कराने की सुविधा प्रदान करती है।

उन्होंने बताया कि बीते 8 नवंबर के पहले 2,000 से लेकर 2,700 रुपए के लेन-देन की जो औसत दर फिसल गई थी वह अब स्थिर स्तर पर आ गई है।

पाइन लैब्स एक दिन में औसतन 1.1 से 1.2 मिलियन ट्रांजैक्शन को प्रोसेस कर रहा है, जो कि 8 नवंबर से पहले यह आंकड़ा 5 लाख औसतन था। हाल ही के दिनों में आंकड़ों में तेजी देखने को मिली है।

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button