इस राज्‍य में अपनी ही सरकार को केंद्र ने दिया बड़ा झटका, निरस्‍त की गणतंत्र दिवस की झांकी

नई दिल्‍ली। पश्चिम बंगाल और महाराष्‍ट्र के बाद अब मोदी सरकार ने बिहार में एनडीए की साथी पार्टी जेडीयू की सरकार और बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को बड़ा झटका दिया है। दरसल यह झटका गणतंत्र दिवस परेड की झांकी को लेकर है। खबरों के मुताबिक, अब गणतंत्र दिवस परेड में बिहार की झांकी भी नहीं दिखाई देगी।

Loading...

नीतीश कुमार

बता दें कि इससे पहले मोदी सरकार ने पश्चिम बंगाल और महाराष्‍ट्र को भी ऐसा ही झटका दिया था। सरकार ने बंगाल और महाराष्‍ट्र की झाकियों पर भी रोक लगा दी थी। इसके बाद अब बिहार की झांकी को लेकर भी ऐसी ही खबर सामने आई है।

दरअसल बिहार की प्रस्तावित झांकी ‘जल जीवन हरियाली मिशन’ पर आधारित थी। एक समाचार एजेंसी ने सबसे पहले इस खबर पर अपनी मुहर लगाई। वहीं इसके बाद दिल्ली स्थित बिहार इन्फोर्मेशन सेंटर के सूत्रों ने भी इस खबर की पुष्टि की है। बताया जा रहा है कि बिहार की झांकी, केन्द्र सरकार द्वारा राज्यों की झांकियों के लिए तय किए गए जरूरी मानकों को पूरा नहीं कर रही थी। इसके चलते ही केन्द्र सरकार ने उसे रिजेक्ट करने का फैसला किया है।

आपको बता दें कि नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली बिहार सरकार ने अक्टूबर 2019 में ‘जल जीवन हरियाली मिशन’ योजना को बड़े जोर-शोर से लागू किया था। नीतीश सरकार की इस योजना का उद्देश्य राज्य में हरियाली बढ़ाने और भूजल के स्तर को सुधारना है। यही वजह है कि बिहार सरकार ने गणतंत्र दिवस की परेड में भी अपनी इसी योजना की झांकी पेश करने का फैसला किया था, लेकिन अब केन्द्र सरकार द्वारा इसे रिजेक्ट करने से बिहार सरकार की इस बड़ी योजना को तगड़ा झटका लगा है।

वहीं दूसरी तरफ बिहार की झांकी के निरस्त होने के बाद विपक्षी पार्टी आरजेडी ने केन्द्र की एनडीए सरकार पर निशाना साधा और इसे बिहार की जनता का अपमान बताया है। आरजेडी ने कहा कि एनडीए सरकार ने पहले बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने से इनकार किया और अब बिहार की झांकी को गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल करने से इनकार कर दिया है। यह बीजेपी की ‘डबल इंजन’ वाली सरकार की सच्चाई है।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *