ना पिए जरूरत से ज्यादा पानी, वरना हो सकता है खतरनाक

हर इन्सान के लिए पानी जरूरी है, लेकिन ज्यादा पानी पीना सेहत के लिए नुकसानदायक भी हो सकता है। यह पानी की कमी जितना ही नुकसानदायक है। शरीर की सभी कोशिकाओं और अंगों को ठीक से काम करने के लिए पानी की आवश्यकता होती है, लेकिन ज्यादा पानी पीने से स्वस्थ्य संबंधी समस्या हो सकती है, जिसे मेडिकल की भाषा में ओवरहाइड्रेशन कहा जाता है। यह एक तरह का मानसिक रोग भी है, जिसमें इन्सान ज्यादा पानी पीने लगता है। इसका सीधा असर गुर्दे पर पड़ता है। उन लोगों के लिए परेशानी बढ़ जाती है, जिनके गुर्दे पानी को शरीर से बाहर नहीं निकाल पाते हैं। 

Loading...

ज्यादा पानी पीने के नुकसान

ज्यादा पानी पीने से शरीर में नमक और इलेक्ट्रोलाइट की मात्रा कम हो जाती है। इससे वॉटर इंटोक्सिकेशन नामक बीमारी हो जाती है। पेट फूल जाता है और बार-बार उल्टी आती है। इसके कारण सिर दर्द भी होता है। स्थिति बिगड़ने पर मरीज बेहोश हो सकता है। उसे मिर्गी का दौरा पड़ सकता है। यहां तक कि वह कोमा में भी जा सकता है। हार्ट फेल हो सकता है। गुर्दे काम करना बंद कर सकते हैं। यह स्थिति डायबिटीज के मरीजों के लिए और खतरनाक बन सकती है। महिलाएं जरूरत से ज्यादा पानी पीती हैं तो उनमें हार्मोंस गड़बड़ा सकते हैं। ब्लड प्रेशर हाई हो सकता है। सांस लेने में परेशानी हो सकती है। साथ ही मांसपेशियों में कमजोरी या ऐंठन हो सकती है। बुजुर्गों के लिए ज्यादा पानी पीना और नुकसानदायक हो सकता है, क्योंकि उन्हें बार-बार बाथरूम जाना पड़ सकता है।

यह भी पढ़ें: इन हरकतों से समझ जाइये कि आपका पार्टनर केवल फिजिकल रिलेशन के लिए ही जुड़ा है

क्या हैं बचने के उपाय

हर इन्सान के शरीर का एक सिस्टम होता है, जिसके अनुसार भूख या प्यास लगती है। जब शरीर में पानी की कमी होती है तो यह अपने आप संकेत देता है और पानी मांग लेता है। इसलिए जबरदस्ती पानी न पिएं। शरीर की जरूरत को समझें। यानी पानी तभी पिएं जब प्यास लगे। ज्यादा पानी पीने की स्थिति उन लोगों के साथ बनती हैं जो लंबे समय तक व्यायाम करते हैं। साथ ही खिलाड़ियों में भी ऐसा होता है। इनके लिए पानी के बजाए स्पोर्ट्स ड्रिंक्स बेहतर विकल्प हो सकता है। इन ड्रिंक्स में शुगर के साथ पोटेशियम और सोडियम जैसे इलेक्ट्रोलाइट्स भी होते हैं जो पसीने के जरिए शरीर से बाहर भी निकलते रहते हैं। ठंड के दिनों में ज्यादा पानी पीने से बचें, क्योंकि इन दिनों में शरीर को उतनी जरूरत नहीं होती।

डॉक्टर को कब दिखाएं

यदि ज्यादा पानी पीने से मरीज बेहोश होने लगा है या इसका असर उसकी याददाश्त पर पड़ रहा है तो डॉक्टर को दिखाना चाहिए। व्यक्ति का वजन भी तय करता है कि उसे दिनभर में कितना पानी पीना चाहिए। अपने डॉक्टर से इस बारे में पूछें। खाने के तुरंत बाद ज्यादा पानी पीने से पाचन क्रिया गड़बड़ा सकती है। अधिकांश मामलों में पानी का स्तर अपने आप भी कम हो जाता है, लेकिन समस्या बनी रहे तो डॉक्टर दवाएं दे सकते हैं। गंभीर मामलों में शरीर का अतिरिक्त पानी निकालने के लिए डायलिसिस पर रहना पड़ सकता है।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *