देश भर में तेजी से बढ़ेगी ठंड, मौसम विभाग द्वारा जारी की गई इस लिस्ट में…

उत्तर भारत में शीतलहर का प्रकोप जारी है। मौसम विभाग के अनुसार पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तर राजस्थान में अगले तीन दिन तक ठंडी हवाएं चलने का अनुमान है। देश में सर्दी बढ़ गई है। पिछले सप्‍ताह हुई बारिश के बाद अनेक राज्‍यों में ठिठुरन देखी जा रही है। मुख्‍य रूप से उत्‍तर एवं मध्‍य भारत इससे प्रभावित हुए हैं। उत्तर प्रदेश, राजस्‍थान, दिल्‍ली, मध्‍य प्रदेश और छत्‍तीसगढ़ में बारिश के साथ ठंड बढ़ी है। उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर राजस्थान, बिहार और हरियाणा में सुबह और शाम को घना कोहरा छाया रहेगा। मौसम विभाग के अनुसार अगले 2 दिन तक पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ, दिल्‍ली, उत्‍तरी राजस्‍थान और पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश में कड़ाके की ठंड पड़ने का अनुमान है। इसके साथ ही कोहरा भी छाया रह सकता है। इसके अलावा दक्षिण के तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में 16 से 18 दिसंबर के बीच भारी बारिश हो सकती है। वहीं केरल में 17 से 18 दिसंबर के बीच बारिश होने का अनुमान है। मुंबई सहित महाराष्ट्र, गुजरात और मध्य प्रदेश में बारिश होने की संभावना है। इसके अलावा पुडुचेरी, केरल और तमिलनाडु में 17-18 दिसंबर को भारी बारिश होने का अनुमान है। स्‍कायमेट वेदर के अनुसार राजस्‍थान के कई शहर इस ठंड से प्रभावित होंगे। दक्षिण भारत में बारिश हो सकती है। पंजाब तथा हरियाणा में पिछले कुछ दिनों से घना कोहरा छाया हुआ है जिससे दिन के तापमान सामान्य से 7-8 डिग्री तक कम है। दिल्ली में शीतलहर का प्रकोप शुरू हो गया है। पहाड़ों से आने वाली बर्फीली हवाएं तापमान को और गिरा सकती हैं। भारतीय मौसम विभाग IMD के अनुसार दक्षिण भारत के राज्‍यों में भारी बारिश का अनुमान है। जानिये देश के मौसम का हाल।

अगले 2 से 3 दिनों का यह है अनुमान

मौसम विभाग के अनुसार उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में लोगों को अगले दो-तीन दिन कड़ाके की ठंड़ के लिए तैयार रहना होगा। पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के तापमान में गिरावट दर्ज हो सकती है। दो-तीन दिनों में उत्तर भारत के तापमान (Temperature) में तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट आ सकती है। मौसम पूर्वानुमान के मुताबिक दिसंबर के आखिरी हफ्ते में दिल्ली का तापमान 2 डिग्री से भी नीचे जा सकता है। दिल्ली ही नहीं बल्कि पंजाब में भी ठंड का प्रकोप बढ़ेगा। उत्तर भारत का पारा लुढ़क कर 3-5 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है। उत्तर भारत के पर्वतीय राज्यों में पिछले सप्ताह जम्मू कश्मीर से लेकर उत्तराखंड तक हुई भारी बर्फबारी के कारण ही अब मैदानी शहरों में कड़ाके की सर्दी शुरू हुई है। मौसम के जानकारों का अनुमान है कि आने वाले दो या तीन दिनों में अभी सर्दी गहरा जाएगी। तापमान घटेगा और शीतलहर चलेगी।

इन राज्‍यों में ठंड तोड़ सकती है रिकॉर्ड

हरियाणा, चंडीगढ़ और उत्तर पश्चिम राजस्थान में भी ठंड रिकॉर्ड तोड़ सकती है। तापमान गिरने से उत्तर भारत के अधिकतर हिस्सो में कोहरे का असर दिखाई दे रहा है। राजस्थान के कई शहरों में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री तक पहुंच गया है। मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश के पहाड़ी इलाके माउंट आबू में अधिकतम तापमान 1.4 डिग्री रिकॉर्ड किया गया है।

उत्तराखंड, हिमाचल से लेकर जम्मू कश्मीर में बर्फबारी

उत्तराखंड, हिमाचल से लेकर जम्मू कश्मीर में इन दिनों भारी बर्फबारी हो रही है। इन राज्यों की ज्यादातर जगहों पर बर्फ की सफेद चादर बिछी हुई है। केदारनाथ धाम में 4 फीट से अधिक बर्फबारी हो चुकी है। केदारनाथ धाम को जोड़ने वाला 18 किमी पैदल मार्ग भी बर्फ से ढ़का हुआ है।

दिल्ली में 2 डिग्री तक गिर सकता है तापमान

पहाड़ों पर बर्फबारी से मैदानी राज्यों में ठिठुरन बढ़ गई है. दिल्ली में पारा 4 डिग्री तक लुढ़क गया है। मौसम विभाग (IMD) ने 16 दिसंबर को दिल्ली का पारा 4 डिग्री तक पहुंचने का अनुमान लगाया है। दिल्ली-एनसीआर और उत्तर भारत में सर्दी जो सितम ढा रही है, उसकी मुख्य वजह पहाड़ों पर भारी बर्फबारी है। उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर में जबरदस्त बर्फबारी हो रही है। मौसम विभाग के मुताबिक पहाड़ों पर जितनी बर्फबारी और बारिश होगी मैदाना में इतनी ही ठंड बढ़ेगी।

जानिये किस शहर की क्‍या रहेगी स्थिति

16 दिसंबर को कई शहरों में तापमान 5 डिग्री सेल्सियस से नीचे पहुंच गया,जिससे शीतलहर का शिकंजा पंजाब से लेकर हरियाणा, दिल्ली-एनसीआर, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और राजस्थान के कई शहरों पर और कस गया है।

पश्चिम राजस्थान में अगले 2-3 दिनों के दौरान शीत लहर और कोहरे की स्थिति रहेगी। बीकानेर, Churu, गंगानगर, हनुमानगढ़, जैसलमेर, झुंझुनूं, जोधपुर, नागौर और सीकर जिलों में मौसम बिगड़ने की संभावना है।

अगले चार-पांच दिनों तक उत्तर भारत के पहाड़ों पर कोई सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ नहीं आने वाला है। यानी भीषण सर्दी से राहत की उम्मीद फिलहाल नहीं की जा सकती।

पहाड़ों से होकर आने वाली ठंडी और शुष्क उत्तरी तथा उत्तर पश्चिमी हवाएं अपना प्रभाव दिखा रही हैं। अब कई इलाके शीतलहर की गिरफ्त में है और कुछ इलाकों में पाला पड़ने की संभावना बन रही है।

उत्तर भारत के कुछ शहरों में जल्द ही पाला यानी ग्राउंड फ़्रोस्ट भी देखने को मिल सकता है। खासतौर पर पंजाब और हरियाणा के उत्तरी इलाके तथा राजस्थान के कुछ उत्तरी शहर प्रभावित होंगे।

हरियाणा में अम्बाला, भिवानी, फरीदाबाद, फतेहाबाद, गुड़गांव, हिसार, झज्जर, जींद, करनाल, कुरुक्षेत्र, मेवात, पलवल, पंचकुला, पानीपत, रेवाड़ी, होहक में कोल्ड वेव की स्थिति की संभावना है। अगले 36-48 बजे के दौरान सिरसा, सोनीपत और यमुनानगर जिले भी प्रभावित हो सकते हैं।

पंजाब में घने कोहरे के साथ शीत लहर की संभावना है। यहां अमृतसर, चंडीगढ़, बरनाला, बठिंडा, फरीदकोट, फाजिल्का, फिरोजपुर, गुरदासपुर, होशियारपुर, जालंधर, कपूरथला, लुधिआना, मनसा, मोगा, मुक्तसर, पटियाला, संगरूर जिले अगले 2-3 दिनों के दौरान शीतलहर बढ़ सकती है।

TamilNadu के लिए WeatherAlert यह है कि यहां तेज हवाओं के साथ बारिश और गरज के साथ अगले 3-4 घंटों के दौरान कन्याकुमारी, Madurai, Thoothukkudi और तिरुनेलवेली जिलों के कुछ स्थानों पर बारिश होगी।

16 -19 दिसंबर के दौरान तमिलनाडु, पुदुचेरी और कराईकल पर और 17 और 18 दिसंबर 2020 के दौरान केरल में भारी बारिश की संभावना है।

पंजाब और हरियाणा और चंडीगढ़ में कुछ इलाकों में बहुत ठंड होने की संभावना है। अगले 24 घंटों के दौरान दिल्ली, उत्तरी राजस्थान और पश्चिम उत्तर प्रदेश में अलग-अलग क्षेत्रों में मौसम बदल सकता है।

17 दिसंबर, 2020 की सुबह के दौरान पंजाब और उत्तरी राजस्थान में पृथक जेब में बहुत घना कोहरा भी होने की संभावना है।

एक व्यापक शीतलहर के प्रभाव में अगले 4 दिनों के दौरान तमिलनाडु, पुदुचेरी और कराईकल, केरल और माहे और लक्षद्वीप क्षेत्र में काफी व्यापक बारिश / गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं।

 

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button