देखिये इन तीन बहादुर बच्चों ने कैसे लुटेरे को किया चारो खाने चित

मिuzbec-415x260लिए इन बहादुर बच्चों से। ये हैं 19 साल के जपनीत, 17 साल के अरुण और सार्थक। कुछ दिन पहले तक ये तीनों भी साधारण बच्चों की तरह थे लेकिन अब ये अपनी बहादुरी के कारण हीरो बन चुके हैं। इन्होंने एक विदेशी महिला की चेन और मोबाइल लूटने की कोशिश करने वाले लुटेरे को लंबी दौड़ लगाकर पकड़ा और पुलिस के हवाले कर दिया।

दिल्ली का है मामला

कुछ दिनों पहले मालवीय नगर में रहने वाले ये बच्चे देर रात करीब 12 बजे फुटबाल खेल रहे थे। तभी इन्होंने देखा कि एक आदमी एक महिला से कुछ छीनने की कोशिश कर रहा है। उज्बेकिस्तान की यह महिला पैदल जा रही थी. तभी लुटेरे ने उससे मोबाइल और चेन छीनने की कोशिश की और पीटने लगा। महिला की चीख सुनकर ये तीनो बच्चे उस ओर दौड़े। लुटेरा भागा तो इन बच्चों ने उसे दौड़ा लिया।

ऐसे हुई वारदात, देखें वीडियो

 

लुटेरे को बच के जाने नहीं दिया

करीब आधा किलोमीटर तक उस लुटेरे के पीछे ये बच्चे भागे और शेख सराय स्कूल के पास उसे दबोच लिया। उसकी पिटाई की और उसे उल्टा लटका कर पुलिस के पास ले जाकर सौंप दिया। बीच सड़क पर लुटेरे के पीछे भागते इन बहादुर बच्चों को देख आसपास के लोग भी वहां जुट गए। महिला के साथ लूट और इन बच्चों की बहादुरी सीसीटीवी कैमरे में रिकॉर्ड भी हो गई।

 

सबके हीरो बन गए हैं बच्चे

लुटेरे को पकड़ने वाले ये स्कूली बच्चे सभी की तारीफ हासिल कर रहे हैं। सीसीटीवी में पूरी घटना रिकॉर्ड हो जाने के कारण इनकी बहादुरी के किस्से भी लोगों तक पहुँच चुके हैं। हालाँकि इन बच्चों का कहना है कि उन्होंने सिर्फ अपना फर्ज अदा किया। सभी लोगों को लूट या महिलाओं के साथ ऐसी घटनाएँ रोकने के लिए कोशिश करनी होगी।

 

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button