दिल का मामला: कोरोनरी स्टेंट्स 85% तक हुए सस्ते

रसायन एवं उर्वरक मंत्री अनंत कुमार ने मंगलवार को इस फैसले की जानकारी देते हुये कहा, ‘बेर मेटल स्टेंट्स (बीएमएस) और ड्रग एल्यूटिंग स्टेंट्स (डीईएस) का दाम मूल्य वर्धित कर यानी वैट और दूसरे स्थानीय कर सहित कुल क्रमश: 7,623 रुपये और 31,080 रुपये से अधिक नहीं होगा। नये दाम तुरंत प्रभाव से लागू हो गये हैं।’ इससे पहले बीएमएस का अधिकतम मूल्य 45,000 और डीईएस का दाम 1.21 लाख रुपये तक था। सरकार ने कंपनियों से मौजूदा स्टॉक में रखे इन उत्पादों का अधिकतम मूलय बदलने को कहा है।वेलेंटाइन-डे के दिन दिल के लाखों मरीजों को राहत पहुंचाते हुये सरकार ने मंगलवार को जीवन रक्षक कोरोनरी स्टेंट्स के दाम 85% तक घटा दिये हैं और केवल धातु वाले स्टेंट्स का अधिकतम मूल्य 7,260 रुपये और ड्रग वाली किस्म का अधिकतम मूल्य 29,600 रुपये तय कर दिया गया है।दिल का मामला:

कोरोनरी स्टेंट एक छोटे छल्ले की शक्ल का उपकरण होता है जिसे नसों के बीच में लगाया जाता है जिसके बाद रक्तप्रवाह आसानी से होने लगता है। यह नस को फुला कर रखता है ताकि रक्तप्रवाह आसानी से होता रहे। मंत्री ने कहा कि स्टेंट के दाम की सीमा तय करने से इसके प्रति स्टेंट में 80,000 से लेकर 90,000 रुपये तक की बचत होगी। दिल के मरीजों को सालभर में इस राहत से कुल मिलाकर 4,450 करोड़ रुपये की राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि कंपनियों को अपने मौजूदा स्टॉक का दाम भी बदलना होगा। उन्होंने कहा कि जो भी अधिक दाम वसूलेगा उसके खिलाफ सख्त कारवाई की जायेगी।

सरकार ने जुलाई 2016 में कोरोनरी स्टेंट्स को आवश्यक दवाओं की राष्ट्रीय सूची-2015 में शामिल कर लिया था। उसके बाद इसे दिसंबर 2016 में दवा मूलय नियंत्रण आदेश 2013 की पहली अनुसूची में इसे दिसंबर 2016 में शामिल कर लिया गया।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button