दिल्ली स्थित जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय प्रशासन ने एक सख्त दिशा-निर्देश किया जारी…

देश के नामी संस्थानों में शुमार दिल्ली स्थित जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (Jawaharlal Nehru University) प्रशासन ने एक सख्त दिशा-निर्देश (circular) जारी किया है। इसमें साफतौर पर छात्र-छात्राओं से कहा गया है कि वे अपने पहचान पत्र (Identity card) अपने पास रखें और मांगें जाने पर दिखाएं। यह आदेश कैंपस में स्थित हॉस्टल में रह रहे छात्र-छात्राओं पर लागू होगा।

Loading...

यह दिशा-निर्देश विश्वविद्यालय के मुख्य सुरक्षा अधिकारी ( university’s chief security officer) नवीन यादव ने बृहस्पतिवार को जारी किया है। इस सर्कुलर को लेकर विश्वविद्यालय में बवाल मच गया है। बताया जा रहा है कि इसको लेकर छात्र संगठन नाराज हैं और आंदोलन भी कर सकते हैं। वहीं, हाल ही में चुने गए छात्र संगठन ने भी इस सर्कुलर की जमकर आलोचना की है।

जेएनयू छात्र संगठन (JNUSU) ने जारी बयान में कहा है- ‘ हम कड़े शब्दों में इस सर्कुलर की निंदा करते हैं। जेएनयू और कैंपस दोनों सुरक्षित हैं। सर्कुलर से जेएनयू कैंपस जेल में तब्दील में हो जाएगा।’

साथ ही JNUSU की ओर से कहा गया है- ‘हमने मुख्य सुरक्षा अधिकारी को चेतावनी दी है कि छात्र इस आदेश को नहीं सहेंगे और हर स्तर पर विरोध करेंगे।’

यह है सर्कुलर में

सभी निवासियों से अनुरोध किया जाता है कि वे अपने पहचान पत्र ले जाएं और सुनिश्चित करें कि जब भी वे पहचान मांगें या उनके या उनके वाहन की तलाशी लें या उन्हें रोकें, तो उनके सुरक्षाकर्मियों को भी सहयोग करना चाहिए।

यहां पर बता दें कि जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय परिसर 1000 एकड़ क्षेत्र में फैला है। फिलहाल यहां पर बने विभिन्न 17 हॉस्टल्स में 7300 छात्र-छात्राएं रहते हैं और तकरीबन 550 प्रतिष्ठित संकायों के तहत अध्ययन कर रहे हैं।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *