दिल्ली में यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान को कर चुका पार, हरियाणा में जारी किया गया अलर्ट

दिल्ली में यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान को पार कर चुका है. मंगलवार सुबह यमुना नदी का जलस्तर खतरे के स्तर 205.33 मीटर से बढ़कर 205.94 मीटर पर पहुंच गया. यमुना के बढ़ते जलस्तर से दिल्ली के साथ ही हरियाणा भी अलर्ट पर है. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने यमुनानगर, कैथल, कुरुक्षेत्र, करनाल, पानीपत और सोनीपत के उपायुक्तों से बात की और संभावित प्रभावित इलाकों से नागरिकों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने का आदेश दिया.

Loading...

मनोहरलाल खट्टर ने सोमवार को यमुनानगर जिले में बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लिया था. हथिनीकुंड बराज से ज्यादा पानी छोड़े जाने से जिले के करीब एक दर्जन गांवों में बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई.  अधिकारियों ने बताया कि यमुना नदी का जलस्तर काफी बढ़ जाने पर तटीय इलाकों को खाली करवाने का काम शुरू कर दिया गया है.

प्रदेश में बाढ़ के कारण अब तक किसी की जान जाने की रिपोर्ट नहीं मिली है. गांव के लोग अपने मकानों की छतों पर शरण लिए हुए हैं. निवासियों की शिकायत है कि उनके परिवारों के लिए भोजन और मवेशियों के लिए चारे की कोई व्यवस्था नहीं है.

सरकार ने यमुनानगर, करनाल, पानीपत और सोनीपत जिलों में हाई अलर्ट जारी किया है. उधर, मौसम विज्ञान विभाग ने चंडीगढ़ में बताया कि हरियाणा के पड़ोस में स्थित पहाड़ी राज्य में मॉनसून की स्थिति कमजोर पड़ गई है और हल्की फुल्की बारिश होने की संभावना है.

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *