दंगल एक्ट्रेस के बोल, आमिर के साथ काम करने से जिंदगी…

मुंबई: आमिर खान की फिल्म ‘दंगल’ शुक्रवार को रिलीज हो रही है। फिल्म में आमिर ने रेसलर महावीर फोगाट का कैरेक्टर प्ले किया है। फिल्म के लिए ना सिर्फ आमिर, बल्कि पूरी स्टारकास्ट ने जमकर मेहनत की है।दंगल एक्ट्रेस के बोल, आमिर के साथ काम करने से जिंदगी...

रेसलिंग के दौरान इतना दर्द होता था कि जिंदगी नर्क बन गई थी

इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि आमिर से लेकर उनकी बेटियों के रोल में फातिमा, सान्या और सभी ने रेसलिंग की ट्रेनिंग ली। फातिमा-सान्या ने कहा, “रेसलिंग के दौरान इतना दर्द होता था कि जिंदगी नर्क बन गई थी।”
 
एक्ट्रेस फातिमा सना शेख और सान्या मल्होत्रा ने कभी अपनी लाइफ में कभी वर्कआउट नहीं किया था, लेकिन दोनोंं ‘दंगल’ में प्रोफेशनल रेसलर बनी हैं। दोनों को ट्रेनिंग कृपाशंकर ने दी है। ‘दंगल’ के रोल के लिए दोनों को 8 से 9 महीने ट्रेनिंग दी गई। सान्या बताती हैं, “हमारे शरीर सहन ना कर पाने लायक दर्द होता था। ऐसा लगता था कि हम नर्क मे हैं। कभी-कभी तो लगता था कि मैं सुबह होने से पहले मर क्यों नहीं जाती। हमें उस हद तक दर्द होता था।” फातिमा और सान्या का कहना है, “हमने फिल्म के लिए काफी मेहनत की और दर्द सहा, लेकिन कभी कम्प्लेन नहीं किया। हम सोचते थे कि अगर हमने शिकायत की, तो हमें फिल्म से निकाल दिया जाएगा। इसीलिए सब सहते रहे।”
‘फातिमा के रेसलिंग सीन्स ज्यादा’
फिल्म में फतिमा के रेसलिंग सीन्स ज्यादा हैं, जबकि सान्या फाइटिंग करते हुए 30 से 40 सेकंड के लिए दिखाई देती हैं। भले ही सान्या को फाइटिंग करते हुए कम टाइम के लिए दिखाया गया हो, लेकिन उन्होंने इसे एक टास्क के तौर पर लिया और एक प्रोफेशनल की तरह रेसलिंग सीखी, जैसे गीता फोगाट को आनी चाहिए।”  फिल्म में फातिमा के काफी फाइटिंग सीन्स हैं। इसके लिए उन्हें काफी प्रैक्टिस करनी पड़ी। शूटिंग से दौरान उनके पैर में फ्रैक्चर हो गया था। उन्होंने रेस्ट के लिए परमिशन ली। फिर कुछ वीक के बाद फिल्म की शूटिंग शुरू की गई।
आमिर की मां ने सुझाया साक्षी का नाम
पहले खबरें थीं कि फिल्म में मल्लिका शेरावत को आमिर की वाइफ के रोल में कास्ट किया जाएगा। लेकिन बाद में आमिर की मां जीनत हुसैन ने साक्षी तंवर को इस रोल के लिए सजेस्ट किया। हाल ही में साक्षी ने खुद इस बात का खुलासा करते हुए कहा, “मेरे फिल्म में होने के पीछे आमिर की मां का बड़ा हाथ है। उन्होंने मेरा काम देखकर इस रोल के लिए आमिर को मेरा नाम बताया था। शूटिंग के बाद फिल्म की स्क्रीनिंग में मैं उनसे मिली और थैंक्यू कहा। हमारी काफी बात हुई, लेकिन मैं उनके साथ और वक्त गुजारना चाहती थी।”
10 महीने तक हुई आमिर की हरियाणवी ट्रेनिंग
आमिर ने ‘दंगल के लिए’ प्रकाश भारद्वाज से 10 महीने हरियाणवी लैंग्वेज की ट्रेनिंग ली है। प्रकाश फिल्म ‘रंग दे बसंती’ (2006) से आमिर के लैंग्वेज कोच हैं। प्रकाश बताते हैं, “मैं आमिर को सही एक्सेंट के साथ डायलॉग्स रिकॉर्ड कर भेजता था, जिसे गंभीरता से सुनकर आमिर प्रैक्टिस किया करते थे।” “आमिर रोज 6 से 8 घंटे लैंग्वेज की ट्रेनिंग लेते थे।”
liveindia.live से साभार…
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button