तो इसलिए नितिन गडकरी बोले, सीएम हों या MLA सब दुखी हैं…

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सहित सभी राजनेताओं पर तंज कसते हुए सोमवार को कहा कि हर नेता दुखी रहते हैं। उन्होंने कहा कि विधायक दुखी हैं कि वह मंत्री नहीं बन पा रहे हैं, मंत्री इसलिए दुखी हैं कि उन्हें अच्छा विभाग नहीं मिला, जिन मंत्रियों को अच्छा विभाग मिला, वे इसलिए दुखी हैं कि मुख्यमंत्री नहीं बन पाए और मुख्यमंत्री दुखी रहते हैं कि उन्हें पता नहीं रहता कि वे कब तक पद पर रहेंगे।

गडकरी ने विधानसभा में ‘संसदीय लोकतंत्र और जन अपेक्षाएं’ विषय पर आयोजित एक वेबिनार में कहा कि जाने-माने व्यंग्यकार शरद जोशी ने लिखा था, ‘जो राज्यों में काम के नहीं थे, उन्हें दिल्ली भेज दिया। जो दिल्ली में काम के न थे, उन्हें राज्यपाल बना दिया और जो वहां भी काम के नहीं थे, उन्हें राजदूत बना दिया।’

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष रहते हुए उन्हें कोई ऐसा नहीं मिला जो दुखी न हो। उन्होंने कहा, ‘मुझसे एक पत्रकार ने पूछा कि आप आनंदित कैसे रहते हो, मैंने कहा कि मैं भविष्य की चिंता नहीं करता, जो भविष्य की चिंता नहीं करता, वह खुश रहता है। वन डे क्रिकेट की तरह खेलते रहो। मैंने सचिन तेंदुलकर और सुनील गावस्कर से चौके-छक्के लगाने का राज पूछा तो वे बोले, यह स्किल है। इसी तरह राजनीति भी एक स्किल है।’

गौरतलब है कि गडकरी का तंज हाल ही में गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी को हटाकर भूपेन्द्र पटेल को मुख्यमंत्री बनाने को लेकर भी हो सकता है। भाजपा ने उत्तराखंड और कनार्टक में भी कुछ दिनों पूर्व मुख्यमंत्री बदले हैं। कांग्रेस शासित राज्यों में भी पद पाने को लेकर खींचतान चल रही है। राजस्थान और पंजाब में पिछले कुछ महीनों में कांग्रेस नेताओं के बीच तो काफी जोर-आजमाइश देखने को मिली है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve + two =

Back to top button