तेज बारिश के चलते वज्रपात ने ले ली 17 लोगों की जान, राज्य सरकार मृतकों के परिजनों को देगी 4-4 लाख का मुआवजा

बिहार के कई जिलों में मंगलवार को हुई तेज बारिश के दौरान वज्रपात  से जहां 17 लोगों की मौत हो गई। वहीं, कई लोग गंभीर रूप से जख्मी भी हो गए हैं। इसके साथ ही कई मवेशियों के भी मरने की खबर है। बिहार राज्य आपदा प्रबंधन विभाग ने इस बात की पुष्टि की है।

Loading...

राज्य सरकार ने वज्रपात से हुई मौत के बाद मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया है। आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि सरकार ऐसे संकट काल में मृतकों के परिजनों के साथ खड़ी है।

दरअसल, मंगलवार की दोपहर बाद कई जिलों में तेज हवा के साथ कई इलाकों में मूसलाधार बारिश हुई और इस दौरान अलग-अलग जिलों से वज्रपात यानि, आकाशीय बिजली गिरने की घटनाएं सामने आईं। जिनमें 17 लोगों की मौत की खबर के साथ ही 5 लोगों के झुलसने की भी सूचना है।

वहीं पटना में पुलिस लाइन में भारी बारिश के कारण एक बड़ा पेड़ गिर गया है जिसके नीचे दबकर छह पुलिस कर्मी घायल हो गए हैं। घायल पुलिसकर्मी टेंट लगाकर रह रहे थे। सभी घायलों को इलाज के लिए PMCH में भर्ती कराया गया है।

कैमूर में चार लोगों की मौत, पांच झुलसे

बिजली गिरने से कैमूर जिले में सबसे अधिक 4 लोगों की मौत  हो गई है। तो वहीं जिले में अलग-अलग जगहों पर गिरी आकाशीय बिजली के कारण पांच लोग झुलस गए।

मोतिहारी में तीन और अरवल में दो लोगों की मौत

मोतिहारी में भी वज्रपात से तीन लोगों की मौत की खबर है, जबकि अरवल जिले में भी मूसलाधार बारिश के साथ कई जगहों पर आकाशीय बिजली गिरने की घटनाएं सामने आई हैं।

इसके साथ ही जहानाबाद और मुजफ्फरपुर से भी आकाशीय बिजली गिरने से मौत की खबर है।  यहां इन घटनाओं में तीन लोगों की मौत हो गई है। जहानाबाद में वज्रपात से दो लोगों की मौत हुई है, जबकि मुजफ्फरपुर में इसके कारण एक व्यक्ति को जान गंवानी पड़ी।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *