तेज प्रताप यादव अपनी पत्‍नी ऐश्‍वर्या के साथ लड़ रहे तलाक का मुकदमा, पढ़े पूरी खबर

राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Pradad Yadav) के परिवार की बड़ी बहू और पूर्व मुख्यमंत्री दारोगा प्रसाद राय (Daroga Prasad Rai) की पोती ऐश्वर्या राय (Aishwarya Rai) को जानने वाले बताते हैं कि वे जुनूनी लड़की हैं, जिसे एक हद तक जिद्दी भी कहा जा सकता है। इसी आधार पर यह भी जोड़ा जा रहा है कि तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) के साथ अपने बिगड़े रिश्ते को जब तक वे अंजाम तक नहीं पहुंचा लेंगी, तब तक अपने ससुराल में ही जमी रहेंगी।

Loading...

मायके लौटने के लिए तैयार नहीं

अभी लालू-राबड़ी के आवास में ही रहकर वे तलाक का मुकदमा लड़ रही हैं। आगे भी ससुराल छोडऩे का इरादा नहीं है। यही कारण है कि वे मायके लौटने के लिए तैयार नहीं हैं। जबकि, कई बार परिजनों ने उन्हें समझाने-मनाने और लौटाने की कोशिश की है। किंतु ऐश्वर्या अपनी जिद पर अड़ी हैं। ससुराल में ही टिकी हैं। शुक्रवार को जरूरी काम और मायकों वालों से मुलाकात के लिए वे राबड़ी आवास से निकली जरूर थीं, लेकिन कुछ ही घंटे के भीतर लौटकर आ गईं।

दरअसल, यह पहला मौका नहीं था जब ऐश्वर्या अपने ससुराल से बाहर निकली थीं। लोकसभा चुनाव के बाद से अपनी जरूरत के सामान लाने और खाने की चीजों के लिए उन्हें बाहर जाना पड़ता है। मायके की मदद लेनी पड़ती है। शुक्रवार को संयोग से राबड़ी के आवास से रोनी सूरत के साथ निकलती ऐश्वर्या पर मीडिया की नजर पड़ गई और उनका वीडियो वायरल हो गया। तेज प्रताप से विवाद के बाद वह कुछ दिनों के लिए मायके रहने गई थीं। किंतु तलाक की अर्जी की खबर फ्लैश होते ही ऐश्वर्या उसी क्षण अपने ससुराल में आ गई थीं और तब से वहीं रह रही हैं।

चंद्रिका राय (Chandrika Rai) के परिवार से जुड़े लोग हैरत में हैं कि जब ससुराल में ऐश्वर्या राय को इतनी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है तो वह वहां से मायके क्यों नहीं लौट रहीं हैं? लोकसभा चुनाव में पिता चंद्रिका राय के सारण से आरजेडी के प्रत्याशी बनने को भी इस प्रकरण से जोड़कर देखा गया। खुद तेज प्रताप ने आरोप लगाया कि ऐश्वर्या अपने पिता को टिकट दिलाने के लिए दबाव बना रही थीं। चंद्रिका राय को सारण से पार्टी का प्रत्याशी भी बनाया गया। प्रचार के दौरान लालू परिवार से खट्टे रिश्ते को मधुर दिखाने-बताने की कोशिश भी हुई, लेकिन कामयाबी फिर भी नहीं मिली। चंद्रिका चुनाव हार गए। इसके बाद ऐश्वर्या के ससुराल में जमे रहने को लेकर दोबारा कयास लगाने लगे।

विवाद को ढकने की ही कोशिश

हालांकि, ऐश्वर्या के मायके वाले अभी भी इस संबंध पर खुलकर कुछ नहीं बोल रहे। चंद्रिका राय ने पारिवारिक विवाद को ढकने की ही कोशिश की। उन्होंने शुक्रवार की घटना को भी सामान्य प्रक्रिया बताया और कहा कि बेटी ससुराल से मायके आती-जाती है। इसमें कोई बड़ी बात नहीं। वे दोपहर में आईं थीं और शाम में लौट गईं। ऐश्वर्या की मां पूर्णिमा राय ने अपने पति की बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि ऐश्वर्या अपनी बहन से मिलने आई थी, उसके बाद लौट गई।

मायके से भी हैं खफा ऐश्‍वर्या

चंद्रिका राय परिवार से जुड़े लोगों का दावा है कि तेज प्रताप के साथ शादी के लिए ऐश्वर्या शुरू से तैयार नहीं थीं। प्रारंभिक दौर में जब शादी की बातचीत चली तो उन्होंने साफ इनकार कर दिया, लेकिन बाद में दोनों परिवारों के करीबी और मानिंद लोगों ने उन्हें समझा-बुझा कर राजी किया। शादी के महज कुछ दिनों के बाद ही जब पति से रिश्ते बिगडऩे लगे तो ऐश्वर्या ने अपने मायके वालों पर बेमेल शादी के लिए राजी कराने का इल्जाम लगाया और उनके गलत फैसले का अहसास कराने की कोशिश की।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *