झाबुआ विस्फोट : आरोपी को कांग्रेसी व भाजपाई बताने की होड़

भोJhabua-blast-The-three-Kas-620x400-300x194 (1)पाल। मध्य प्रदेश के झाबुआ जिले में हुए विस्फोट और 88 लोगों की मौत के गुनहगार राजेंद्र कासवा पर राजनीति तेज हो गई है। उसे अब कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी से जुड़ा होने की बताने की होड़ मच गई है। दोनों ही दल अपने आरोप और दावे को पुष्ट करने के साक्ष्य भी पेश करने में जुट गए हैं। झाबुआ के पेटलावद में हुए विस्फोट की मुख्य वजह विस्फोटक पदार्थो के संग्रह को माना जा रहा है। यही कारण है कि विस्फोटक संग्रह करने वाले राजेंद्र कासवा को मुख्य आरोपी बनाए जाने के साथ उस पर एक लाख रुपये का इनाम भी घोषित किया गया है। पुलिस लगातार विभिन्न स्थानों पर दबिश देकर कासवा को तलाश रही है, लेकिन उसके हाथ अब तक खाली हैं।

कासवा भले ही पुलिस के हाथ न आया हो, लेकिन उसे कांग्रेस और भाजपा नेता ठहराने की होड़ मच गई है। कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष अरुण यादव ने कासवा को भाजपा के व्यापारिक प्रकोष्ठ से जुड़ा बताया तो भाजपा के प्रदेषाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने उसे कांग्रेस का करीबी बताया।

चौहान ने कासवा को कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष व पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया के बेटे विक्रांत भूरिया का फेसबुक फ्रेंड बताया। इस पर विक्रांत ने साफ किया कि जो राजेंद्र कासवा उनका मित्र है, वह झाबुआ निवासी है और उसके पिता कारोबारी हैं। अपने मित्र राजेंद्र को विक्रांत ने मीडिया के सामने पेश भी किया। वहीं, चौहान के खिलाफ मानहानि का दावा करने की बात कही।

कांग्रेस की ओर से प्रवक्ता जे. पी. धनोपिया ने सोशल मीडिया पर एक ऐसी तस्वीर जारी की, जिसमें कासवा को राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के गणवेश (परिधान) में दिखाया गया है। इसे भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष चौहान ने ‘कुरचित’ तस्वीर करार दिया। यहां तक कि उन्होंने संघ को राष्ट्रभक्त संगठन करार देते हुए पंडित जवाहर लाल नेहरू की भी संघ के गणवेश में एक तस्वीर जारी कर दी।

 

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button