जोड़ों के दर्द से निजात पाने के ये हैं गजब उपाय, आज ही करें ट्राई

- in हेल्थ

अपने आस-पास आपने अक्सर लोगों को जोड़ों के दर्द की शिकायत करते सुना होगा। आज हर तीसरे से चौथे इंसान में अर्थराइटिस या जोड़ो के दर्द की परेशानी देखने को मिलती है। पहले यह परेशानी ज्यादा उम्र के लोगों में देखने को मिलती थी, लेकिन अब नौजवानों में भी यह परेशानी आम है। अगर आप या आपके आस-पास कोई इस परेशानी से जूझ रहा है तो इन टिप्स को अपनाकर इसके असहनीय दर्द से निजात पा सकते हैं। इसके लिए आपको बस अपनी डाइट में थोड़़ा बदलाव करने की जरूरत है। आइए जानते हैं क्या है वो चीजें…जोड़ों के दर्द से निजात पाने के ये हैं गजब उपाय, आज ही करें ट्राई

लहसुन
लहसुन का सेवन से अर्थराइटिस को रोगियों को बहुत फायदा होता है। इसलिए अपनी डाइट में रोजाना लहसुन को शामिल करें। इसमे पाये जाने वाले एंटी बैक्टीरियल, एंटीफंगल, एंटी बायोटिक और एंटी इंफ्लेमेट्री गुण जोड़ों के दर्द से निजात दिलाने में मदद करते हैं। एक बात का खास ख्याल रखें, अभी गर्मीयों का मौसम है और लहसुन की तासीर गर्म होती है। इसलिए रोजाना1 या 2 कली से ज्यादा सेवन करने से बचें।

हल्दी
हल्दी में करक्यूमिन नामक तत्व होता है, जो बीमारी फैलने वाले बैक्टिरियां को खत्म करने का काम करता है। इसलिए गठिया के मरीजों को अपनी डाइट में इसे जरूर शामिल करना चाहिए। हल्दी के सेवन से उन्हें दर्द में भी आराम मिलेगा।

ब्रोकली
पोषक तत्वों से भरपूर ब्रोकली हमे.जोड़ों के दर्द से छुटकारा दिलाने में काफी मददगार है। इसमें मौजूद प्रोटीन, कैल्शियम, कार्बोहाईड्रेट, आयरन, विटामिन ए और सी और क्रोमियम हमारे शरीर को स्वस्थ रखने का काम करता है। एक रिसर्च में इस बात का खुलासा हुआ कि ब्रोकली धीरे-धीरे बढ़ रहे गठिया के रोग को काबू करने में सक्षम है। इसलिए अपनी डाइट में ब्रोकली को जरूर शामिल करें।

ओमेगा-3 एसिड
अर्थराइटिस से छुटकारा पाने के लिए ओमेगा-3 फैटी एसिड का सेवन करें। इसके लिए आपको अपनी डाइट में एल्गी ऑयल, फिश ऑयल, सैमन मछली को शामिल करें।

बथुआ
अर्थराइटिस से राहत पाने के लिए बथुआ के पत्तों का रस बहुत कारगार है। अपनी डाइट में बथुआ को शामिल करें और इसके साथ ही रोजाना इसके पत्तों का रस पीएं। ध्यान रखें रस में स्वाद के लिए कुछ मिलाए नहीं। तीन महीने तक सेवन करने के बाद आपको इसका असर साफ देखने को मिलेगा।

बरतें ये सावधानियां
-टहलना बंद ना करें
-व्यायाम करना न छोड़ें
-वसायुक्त भोजन का इस्तेमाल न करें
-फास्ट फूड और डिब्बाबंद खाना खाने से बचें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

डेंगू से उबरने में यह सब्जी करती है रामबाण का काम

बदलते मौसम और पनपते मच्छरों की वजह से