जियो की मुफ्त सेवाओं से टेलीकॉम इंडस्ट्री को हुआ इतना बड़ा नुकसान

मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस जियो की मुफ्त सेवाओं से टेलीकॉम इंडस्ट्री को 20 प्रतिशत राजस्व नुकसान हुआ है। यह जानकारी इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च की एक रिपोर्ट में दी गई है।

जियो की मुफ्त सेवाओं से टेलीकॉम इंडस्ट्री को हुआ इतना बड़ा नुकसान

गुरुवार को जारी की गई रिपोर्ट में एजेंसी ने कहा कि जनवरी 2017 तक जियो ने 7.2 करोड़ का सब्सक्राइबर बेस बना लिया। इसके चलते मार्केट शेयर का पुनर्वितरण हो रहा है। मार्च 2017 तक यह बेस 10 करोड़ तक पहुंच सकता है।

बेरोजगारों के लिए खुशखबरी, अब फेसबुक देने जा रहा नौकरी!

मार्केट शेयर को हासिल करने की जियो की योग्यता के कारण प्राइसिंग के साथ ही यूजर एक्सपीरियंस दोनों में सुधार होगा। रेटिंग एजेंसी ने कहा कि भारतीय टेलिकॉम इंडस्ट्री में ड्युअल सिम का चलन तेजी से बढ़ेगा। वहीं, डाटा और वॉइस यूसेज का पैटर्न कैसा रहेगा, इसके बारे में कोई अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है।

वोडाफोन और आइडिया का प्रस्तावित विलय दूरसंचार उद्योग के लिए सकारात्मक होगा। इससे स्पेक्ट्रम और बुनियादी ढांचे के पूंजीगत खर्च का दोहराव खत्म होगा। छोटी टेलीकॉम कंपनियों द्वारा स्वतंत्र रूप से बिजनेस चलाना आसान नहीं होगा और वे इससे बाहर निकलने के विकल्प तलाशेंगे।

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button