जानिए क्यों पड़ता है हार्ट अटैक

- in हेल्थ
जो लोग धूम्रपान करते हैं, उनमें दिल से ब्लड पहुंचाने वाली नर्व्स ब्लॉक हो जाने की वजह से हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है।जिनका वजन उनकी हाइट से अधिक होता है, उन्हें डायबिटीज, ब्लड प्रेशर और हाई कोलेस्ट्राल होने की आशंका अधिक होती है। इसलिए हार्ट अटैक का ज्यादा खतरा रहता है।जानिए क्यों पड़ता है हार्ट अटैक

जिनको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होती है। उनका कोलेस्ट्रॉल अधिक हो जाता है, जो कि हार्ट अटैक की वजह बनता है।ज्यादा शराब पीने वालों में इसके सेवन से ब्लड प्रेशर बढ़ता है, जिससे हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है।जंक फूड अधिक खाने वालों में इसके खास मसालों और तला होने की वजह से कैलोरी की बड़ी मात्रा शरीर में पहुंचती है। अंततः इसका प्रभाव दिल पर पड़ता है।

पालतू जानवरों को भी हार्ट अटैक
अब इंसान ही नहीं, पालतू पशु भी दिल संबंधी बीमारियों के शिकार हो रहे हैं। यही वजह है कि इंसानों की तरह अब कुत्तों में भी डायबिटीज, थायराइड, हार्ट अटैक, किडनी फेल जैसे मामले देखने को मिल रहे हैं। दरअसल, पशुओं को पालने वाले लोगों की अनियमित जीवनशैली का प्रभाव पशुओं की दिनचर्या पर भी पड़ रहा है। लोग अपने जैसा आहार पशुओं को भी परोस रहे हैं। इसी का प्रभाव है कि तेल, मसालों वाले विपरीत खान-पान की वजह से करीब 50 फीसदी कुत्ते मोटापे की समस्या से ग्रस्त हैं।

दांत से पूछिए, दिल का हाल

दिल को चाय-कॉफी पसंद है। नीदरलैंड में एक दशक से ज्यादा चले शोध में कहा गया है कि एक दिन में 6 कप तक चाय पीना दिल की बीमारी के खतरे को कम करता है। सीमित मात्रा में चाय-कॉफी पीना शरीर के लिए नुकसानदेह नहीं है, लेकिन जो लोग इसके साथ धूम्रपान करते हैं, उनके लिए इसके फायदे खत्म हो जाते हैं।

आपके पास 30 मिनट तो हैं!
नियमित व्यायाम से हार्ट अटैक जैसी कई गंभीर बीमारियों का खतरा कम हो जाता है। इससे शरीर में रक्त का प्रवाह सही रहता है और बीमारियां नहीं पनप पातीं। नियमित तौर पर करीब 30 मिनट टहलने से भी दिल सेहतमंद रहता है। कुछ शोध बताते हैं कि अगर दिल सेहतमंद हो, तो दिमाग भी जल्दी बूढ़ा नहीं होता।

आपने दांत से पूछा, दिल का हाल?
दांतों की सफाई से दिल की सेहत का गहरा संबंध है। ब्रिटेन के एक मेडिकल जर्नल में छपे शोध में कहा गया है कि दिन में दो बार ब्रश करने वालों की तुलना में ब्रश न करने वाले लोगों में दिल की बीमारियों का खतरा 70 फीसदी तक बढ़ जाता है। मुंह में जलन पैदा करने वाले बैक्टीरिया इंसान के खून में प्रवेश कर दिल की धमनियों को जाम कर देते हैं, और यह खतरनाक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कोलेस्ट्रोल को कंट्रोल में रखती है राई

राई के छोटे-छोटे दाने भारतीय रसोई में बहुत