जादू-टोने के शक में 5 ग्रामीणों को मल-मूत्र पिलाया, जुर्माना भी लगाया

seoni34_11_10_2015-1सिवनी । जादू-टोने के शक में 5 लोगों को मल खिलाने और मूत्र पिलाने का मामला सामने आया है। इन पर 35-35 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया गया। घटना जिले के छपारा तहसील के आदिवासी बहुल गांव सालेगढ़ की है। पीड़ितों की पहचान कमल उईके(55), उमाशंकर उईके(28), कुंवरलाल उईके (55), हरिराम मर्सकोले (55) और रामसिंह (40) के रूप में हुई है।

जुर्माने की रकम सुनकर पांच में से एक गांव छोड़कर भाग गया। मामले का खुलासा रविवार को उस समय हुआ, जब उसके परिजन गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखाने थाने पहुंचे। मौत पर गहराया शक 10 सितंबर को गांव के समीलाल पिता मक्खन लाल की सांप के काटने से मौत हो गई थी। इसके दो दिन बाद ही समीलाल के भांजे श्रीसंत की भी इसी तरह मौत हो गई।

सांप के डसने से मामा-भांजे की मौत के बाद गांव के लोगों की शंका गहराई तो वो मौत की सचाई जानने छिंदवाड़ा के खमरा गांव के पंडा गोपाल सिंह को ले आए। 4 अक्टूबर की सुबह गांव के लोग तय स्थान पर इकट्ठे हुए। इस दौरान उन पांच लोगों को भी बुलाया गया, जिन पर जादू से सांप बनाकर मामा-भांजे की मौत का शक था। पहले डुबकी लगवाई पांचों के सिर पर मटकी रख उसमें नारियल, सिंदूर डाल उन्हें गांव से लगभग 3 किमी दूर चंदेरी गहरा नाला ले जाया गया।

यहां पंडा ने इन सभी को कपड़े उतार तीन बार डुबकी लगाने को कहा। इसके बाद पांचों को मल खिलाने के बाद मूत्र पिलाया गया। इतना ही नहीं, पंडा ने इन्हें उनके अपराध के एवज में 35-35 हजार रुपए जमा करने का फरमान भी सुनाया। 4 दिन से गायब है हरिराम पांच पीड़ितों में से एक हरिराम का पिछले 4 दिनों के कुछ पता नहीं।

गायब हरिराम के बेटे जीवन ने पुलिस से पिता को ढूंढकर आरोपियों पर कार्रवाई की मांग की है। उसने कहा कि 8 अक्टूबर को गांव के कुछ लोग उसके पिता को बुलाने घर आए थे। इसके बाद से ही पिता का पता नहीं।

गांव में नहीं था

गांव में पंडा बुलाने और पांच लोगों को मल-मूत्र पिलाए जाने की जानकारी मुझे मिली है। जिस समय यह सब हुआ, मैं गांव में नहीं था। -धनीराम उइके, सरपंच

मामला दर्ज

गांव के 20-25 लोगों ने अमरवाड़ा से पंडा बुलाकर पांच लोगों को मल-मूत्र पिलाने और इन पर जुर्माना लगाए जाने की शिकायत की है। पांच में से एक गायब है। मामला दर्ज कर लिया है। -एनके पांडे, टीआई छपारा

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button