जल भराव ने खोल कर रख दी सभी की पोल, पहली बार बारिश कैसे नहीं झेल पाई दिल्ली

देश की राजधानी दिल्ली में नालों की सफाई से संबंधित सभी एजेंसियां दावा कर रही हैं कि उनके नाले साफ हो गए हैं। वहीं, जल भराव ने सभी की पोल खोल कर रख दी है कि नाले साफ हुए हैं तो पहली ही बारिश दिल्ली कैसे नहीं झेल पाई है? दिल्ली की जनता ने जलभराव का अभूतपूर्व मंजर देखा है। लाखों लोग परेशान हुए हैं। लोगों के घरों में पानी भर गया तो कहीं सड़कों पर लोग घंटों फंसे रहे। मिंटो रोड के नीचे एक व्यक्ति अपनी जान भी गंवा बैठा। कोई भी इसके लिए अपनी जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार नहीं है। इस बार कोरोना को लेकर श्रमिको की परेशानी जरूर रही है मगर जिस तरह से नालों की सफाई को लेकर संबंधित एजेंसियां लाापरवाह बनी हुई थीं, माना जा रहा था कि ठीक से बारिश हो गई तो दिल्ली में इस बार भयंकर जल भराव होगा।

क्या देरी से साफ किए गए नाले

नालों की सफाई के लिए व्यवस्था की बात करें तो 15 मई तक बरसाती नाले साफ हो जाने चाहिए। अगर इस तारीख तक नहीं हो पाता है तो 31 मई तक हो जाना ही चाहिए। यह हर बार होता है कि नालों की सफाई के कार्य में देरी होती है। जब तक मानसून आ जाता है जब तक नालों की सफाई का काम चलता रहता है। बारिश होने पर जलभराव और कोई घटना हो जाने पर आरोप प्रत्यारोप। कुछ दिन के बाद स्थिति फिर से सामान्य हो जाती है। दिल्ली में लंबे समय से नालों की सफाई को लेकर अभी तक यही चल रहा है। यह हाल नगर निगम, लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी), सिंचाई एवं बाढ़ नियंत्रण विभाग आदि सभी एजेंसियोंं का है।

क्या कहते हैं विशेषज्ञ

सर्वज्ञ श्रीवास्तव (तकनीकी विशेषज्ञ व पूर्व सचिव लोक निर्माण विभाग) का  कहना है कि जब तक सीवरलाइन और बरसाती नालों का पानी अलग अलग नहीं बहाया जाएगा दिल्ली में जल भराव की समस्या दूर नहीं हो सकती है। मैं मानता हूं कि नालों की सफाई में एजेंसियों द्वारा ठीक से काम नहीं करने की बात हो सकती है। लापरवाही हो सकती है। मगर दिल्ली में जल भराव की समस्या का समाधान सीवर और बरसाती पानी के लिए अलग अलग नालों की व्यवस्था किया जाना जरूरी है।

शशिकांत (प्रमुख अभियंता लोक निर्माण विभाग) के मुताबिक, हमने अधिकतर नाले साफ करा दिए हैं। जलभराव की समस्या हमारी ओर से कभी भी नही होती है। अक्सर ऐसा देखा जाता है कि हमारे छोटे नालों का पानी जब दिल्ली सरकार के बड़े नालों में गिरता है, वहां समस्या रहती है। इसलिए जलभराव होता है। जयप्रकाश महापौर नगर निगम उत्तरी हमारे सभी नाले साफ हो चुके हैं। कोरोना के संक्रमण के चलते श्रमिकों को लेकर कुछ समस्या जरूर आई मगर नालों को साफ करा लिया गया है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button