भाजपा सांसद का विवादित बयान: कहा- चाहे मुस्लिम हो या हिंदू सभी का होना चाहिए ‘दाह’

भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने एक बार फिर विवादित बयान देकर चर्चा में हैं। साक्षी महाराज अब कब्रिस्तान और श्मशान घाट की बहस में उतर आए हैं और उन्होंने इस मुद्दे पर अपना विवादित बयान दिया है। साक्षी महाराज ने कहा कि चाहे नाम कब्रिस्तान हो, चाहे श्मशान हो, दाह होना चाहिए, किसी को भी गाड़ने की आवश्यकता नहीं है।

अभी अभी: भारत ने पाकिस्तान को दिया बड़ा तोहफा, खुश हुए लोगभाजपा सांसद का विवादित बयान: कहा- चाहे मुस्लिम हो या हिंदू सभी का होना चाहिए 'दाह' सनी लियोनी की ऐसी तस्वीरें देख, उड़ गये सबके होश

Popular Videos 01:55 एम एस धोनी ने पुराने चायवाले साथ निभाई दोस्ती, जाने कहाँ मिले 01:37 इयोन मोर्गन की ड्रीम टीम में नहीं सचिन तेंदुलकर के लिए जगह नहीं 01:49 शिवराज चौहान का दावा यूपी में पीएम मोदी से सब खुश,देखें विडियो देश में 20 करोड़ मुस्लिम, सबको चाहिए कब्रिस्तान की जगह साक्षी महारारज ने कहा कि देस में तकरीबन दो से ढाई करोड़ साधू हैं अगर सबकी समाधि नबे तो कितनी जमीन जाएगी, देश में 20 करोड़ मुसलमान हैं, सबको कब्र चाहिए, हिदुस्तान में जगह कहां मिलेगी।

साक्षी महाराज ने उस विवाद पर अपना बयान दिया है जिसपर प्रधानमंत्री मोदी ने भी भी रैली में कहा था कि सपा सरकार में कब्रिस्तान, श्मशान, होली दिवाली के नाम पर भेदभाव किया जा रहा है। श्मशान-कब्रिस्तान सबके लिए होने चाहिए साक्षी महाराज ने कहा कि एक नया कानून होना चाहिए, जिसमें कब्रिस्तान के लिए कोई भी जमीन नहीं होनी चाहिए, श्मशान घाट की वकालत करते हुए साक्षी महाराज ने कहा कि अगर सारी जमीन कब्रिस्तान में चली जाएगी तो खेत खलिहान कहां होंगे। उन्होंने पीएम मोदी के बयान से असहमति जताते हुए कहा कि मैं उनके बयान का समर्थन नहीं करता कि श्मशान घाट और कब्रिस्तान के लिए बराबर जमीन होनी चाहिए, उन्होंने कहा कि श्मशान घाट और कब्रिस्तान सबके लिए एक ही होने चाहिए।

पीएम मोदी ने किया था श्मशान-कब्रिस्तान का जिक्र गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने फतेहपुर में रैली के दौरान कहा था कि अगर एक गांव को कब्रिस्तान के लिए पैसा उपलब्ध कराया जाता है तो उसे श्मशान भूमि के लिए भी पूंजी भी उपलब्ध कराई जानी चाहिए। पीएम ने कहा कि अगर आप रमजान में बिजली आपूर्ति कराते हैं तो आपको दिवाली में भी समान बिजली आपूर्ति करानी चाहिए। पीएम के इस बयान के बाद मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सहति तमाम विपक्षी नेताओं ने उनपर ध्रुवीकरण का आरोप लगाया और पीएम पर लोगों के बीच नफरत फैलाने का आरोप लगाया था।

मोदी देश के भाग्य विधाता इससे पहले साक्षी महाराज ने पीएम मोदी के बयान का समर्थन करते हुए कहा था कि पीएण देश के भाग्य विधाता हैं, वह सबका साथ सबका विकास के सिद्धांत को लेकर आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने एक समान श्मशान घाट, कब्रिस्तान, की बा कही और उन्होंने दिवाली और रमजान दोनों मौके पर बिजली दिए जाने की बात कही है। ऐसे में प्रधानमंत्री के बयान में विवाद कहां है, हम लोगों को जोड़ना चाहते हैं, तोड़ना नहीं। उन्होंने कहा कि विपक्ष लोगों को तोड़ने का काम कर रहा है, लेकिन मोदी तोड़ने नहीं बल्कि जोड़ने का काम करते हैं।

मुस्लिम उम्मीदवार को टिकट नहीं दिए जाने पर भी दिया बयान साक्षी महाराज ने यूपी के चुनाव में मुसलमानों को टिकट नहीं दिए जाने पर कहा था कि भाजपा ऐसा दल है जहां ना तो हिंदू को टिकट दिया जाता है और ना ही मुस्लिमों को टिकट दिया जाता है। हम सिर्फ चुनाव जीतने वाले उम्मीदवारों को टिकट देते हैं, लेकिन लोग इसे हिंदू और मुसलमान के चश्मे से देखते हैं। उन्होंने कहा कि मुमकिन है कि जिन मुसलमान उम्मीदवारों को टिकट दिया जाए वह जीत नहीं पाए, हमने एमजे अकबर को राज्यसभा भेजा और फिर उन्हें मंत्री बनाया। यूपी में अगर हमारी सरकार बनी तो हम योग्य मुसलमानों को लेकर आएंगे।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button