ग्रे मार्केट में 12,000 रुपए तक सस्ता मिल रहा आईफोन

download-110मुंबई। iPhone 6s और 6s plus स्मार्टफोन्स मुंबई और दिल्ली के ग्रे मार्केट्स में छा गए हैं। ग्रे मार्केट में इनकी कॉस्ट भी चौंकाने वाली है। यहां इन फोन्स की कीमत 12000 रुपए तक कम है। इस साल टैक्स नियमों में बदलाव के कारण ग्रे मार्केट और जनरल मार्केट में इन प्रॉडक्ट्स की कीमतों में भारी अंतर आया है।

इस साल से इंपोर्टेड स्मार्टफोन पर लोकल मैन्युफैक्चरिंग या असेंबलिंग वाले फोन के मुकाबले 11.5 फीसदी ज्यादा ड्यूटी लगाई जा रही है। मेक इन इंडिया अभियान को बढ़ावा देने के लिए पिछले बजट में टैक्स नियमों में बदलाव किया गया था। पिछले कुछ साल तक यह अंतर 5 फीसदी था। पिछले कुछ हफ्तों में डॉलर के मुकाबले रुपये में भी गिरावट आई है।

भारत में मिडल ईस्ट, सिंगापुर और हांगकांग जैसे ग्लोबल मार्केट्स से आईफोन की तस्करी हो रही है।  कीमत का अंतर 14,000-16,000 रुपये के बीच है। ऐसे में नए आईफोन के लिए ग्रे मार्केट काफी तेजी से बढ़ रहा है और ऐपल जब तक अपनी आधिकारिक कीमतों को तर्कसंगत नहीं बनाती है, तब तक बड़ी संख्या में ग्राहक ग्रे मार्केट से इसकी खरीदारी जारी रखेंगे या ऑनलाइन डिस्काउंट शुरू होने का इंतजार करेंगे। भारत में ऐपल के नए आईफोन की लॉन्चिग का मामला अपेक्षाकृत ठंडा रहता है। कंपनी के कुछ स्टोर्स का कहना है कि पिछले साल सेल्स में 40 प्रतिशत की गिरावट रही। कंपनी की शुरुआती योजना सेल्स को तीन गुना करने की थी, लेकिन कंपनी को इसमें सफलता नहीं मिली।

ऐपल ने पिछले शुक्रवार को अपना लेटेस्ट आईफोन लॉन्च किया था, जिसकी कीमत 62,000 से 92,000 रुपए के बीच है। यह कीमत पिछले साल के लॉन्च प्राइस के मुकाबले 8,500-9,000 रुपए ज्यादा है। पिछले हफ्ते ईबे पर नए आईफोन के इंपोर्टेड मॉडल्स का प्रति घंटा 30-40 व्यू दिखाया रहा था। मिसाल के तौर पर सोमवार को 16जीबी का आईफोन 6एस मॉडल ईबे पर 53,153 रुपए में बिक रहा था, जबकि इसकी आधिकारिक कीमत 62,000 रुपए है। 128जीबी का आईफोन6 प्लस मॉडल ईबे पर 80,180 रुपए में बिक रहा था, जबकि भारत में इसकी कीमत 92,000 रुपए है। ऑफलाइन ग्रे मार्केट ठिकानों में इंपोर्टेड मॉडल आधिकारिक कीमत से 5,000-11,000 रुपए कम कीमत पर अवलेबल थे। इंडस्ट्री के एक वर्ग का मानना है कि यह ऐपल के लिए पर्याप्त संकेत है कि उसे भारत में असेंबलिंग शुरू करनी चाहिए।
सूत्रों के मुताबिक ऐपल ने वीकऐंड पर 1.5 लाख यूनिट आईफोन 6एस और 6एस प्लस बेचने का लक्ष्य तय किया था लेकिन उसका यह लक्ष्य पूरा नहीं हो सका। रिपोर्ट्स की मानें को इस वीकऐंड पर सिर्फ 50000 यूनिट आईफोन ही बिके हैं। पिछले साल वीकऐंड पर आईफोन 6 के 55,000 यूनिट बिके थे। पिछले साल की तरह इस साल ऐपल आईफोन का जादू नहीं चल सका।

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button