ग्रामीण क्षेत्रों में बारिश का पानी बरपा रहा कहर, आवागमन दुश्वार

ग्रामीण क्षेत्रों में बारिश का पानी कहर बरपा रहा है। इसके चलते सात मकान गिर गए जबकि आवागमन दुश्वार है। वहीं, परसपुर क्षेत्र में पुल पर मिट्टी डाल दिए जाने के कारण राहगीरों की मुश्किलें बढ़ गई हैं।

हलधरमऊ : परसा गोंडरी के मजरा शिवशंकर पुरवा के दयाराम, पवनकुमार, हरिश्चंद्र, रोहित, अवधेश शुक्ल, बच्चाराम व

विरतिहनरवा के रमेश, अश्वनी सहित आठ लोगों के घरों में पानी घुस गया है। वहीं, चकसेनिया के मजरा धोबियन पुरवा के 15 घरों में पानी भरा है। पानी के लगातार भरे रहने से जयसिंहपुरवा की शबनम, नकछेद, रामपाल, सर्वांगपुर के संतोष पांडेय, अखिलेश दुबे, शिवशंकर पुरवा के अशोक शुक्ल व चकसेनिया के जगदंबा का कच्चा घर गिर गया है। इसके अलावा क्षेत्र के मैजापुर, हाता, भार्गव पुरवा, कपूरपुर, अखरेड़ा, नूरपुर, हडियागाड़ा, लंबुईया, गोगिया सहित लगभग 50 गांवों के रास्तों पर पानी भरा है और फसलें डूबी हैं। सत्यप्रकाश मिश्र, डॉ. यशकरन सिह, संजय तिवारी, शुभम कुमार मिश्र, अवधेश शुक्ल, रज्जन सिंह ने एसडीएम को फोन पर सूचना दी, लेकिन गांव में कोई अबतक झांकने नहीं आया है।

परसपुर : मधईपुर कुर्मी व परसपुर के जबदा गांव निवासी रिकू, रामू, रोहित, गंगाराम, मंजू, इंद्र बहादुर तिवारी, हुकुमदत्त, हरीशंकर, विजय कुमार, रामकुमार समेत 40 लोगों ने एसडीएम कर्नलगंज को शिकायतीपत्र दिया है। आरोप लगाया है कि गांव के सामने पसका मार्ग पर पुल बना है। भट्टा संचालक ने के बीच पानी के बहाव के लिए बने खाली स्थान में मिट्टी भर दिया है। इसके चलते हजारों बीघा फसलें जलमग्न हो गई हैं। एसडीएम ज्ञानचंद गुप्त ने बताया कि जांच करके आरोपितों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button