गुलाबी ठंडक में घुमने के लिए बेस्ट हैं देश की ये जगह…

कोरोना की वजह से सबकुछ लंबे समय तक बंद पड़ा था और लोग घरों में कैद हो गए और कहीं घूमने के लिए नहीं जा पाए। हांलाकि अब धीरे-धीरे सभी एहतियात के साथ पर्यटन स्थल भी खुलने लगे हैं। ऐसे में आने वाले दिनों में अक्टूबर-नवंबर के महीने में गुलाबी ठंडक की वजह से फिजाओं की रंगत हसीन बनी होती हैं और यह मौसम घूमने के लिहाज से बहुत अच्छा हैं। इसलिए आज इस कड़ी में हम आपके लिए कुछ ऐसी जगहों की जानकारी लेकर आए हैं जो इस गुलाबी ठंडक में घूमने के लिए बेहतरीन साबित होगी।

Loading...

जम्मू कश्मीर

जम्मू कश्मीर को धरती का स्वर्ग कहा जाता है। इसलिए हर सैलानी का सपना होता है कि एक बार तो वह यहां जरूर जाए। चारों तरफ से खूबसूरत वादियां, बर्फीली पहाड़ियां, शांत वातावरण और खूबसूरत नजारे इस शहर की खूबसूरती में चार चांद लगाती है। अक्‍टूबर-नवंबर में घूमने के लिए ये जगह बिल्‍कुल परफेक्‍ट है। इसलिए ट्रिप की लिस्‍ट में सबसे पहला नाम यहां का आता है।

जैसलमेर

आप जैसलमेर शहर घूम सकते हैं। यह भी एक बेहतरीन शहर है। यहां ऊंट की सवारी डेजर्ट कल्चर सैंटर व म्यूजियम, पटवा हवेली जैसे दर्शनीय स्‍थल शानदार हैं। इस महीने में यहां घूमना एक शानदार अनुभव हो सकता है।

अरुणाचल प्रदेश

अरुणाचल प्रदेश प्राकृतिक खूबसूरती से भरा हुआ है। यहां कई ऐसे पर्यटन स्थल हैं, जो आपको प्रकृति को नजदीक से महसूस कराने और मन को शांति का अनुभव करवाएंगे। यहां की ऐसी ही एक जगह जीरो वैली भी है, जहां कुदरत के नायाब खजाने को देखने के लिए जाया जा सकता हैं। साथ ही फोटोग्राफी के लिहाज से भी ये एक बेहतरीन स्‍पॉट है।

जोधपुर

गुलाबी ठंड में जोधपुर घूमने के लिए सबसे बेस्‍ट जगह है, क्‍योंकि इस वक्‍त यहां का मौसम बेहद सुहावना होता है। इस दौरान न तो यहां बहुत तपिश होती है और न ही ठंडक। इसलिए इस वक्‍त यहां की सैर बेहद सुहानी होती है।साथ ही अक्टूबर में होने वाला इंटरनेशनल फोक फेस्टिवल का भी लुत्‍फ ले सकते हैं।

दार्जलिंग

पश्चिम बंगाल में मौजूद दार्जलिंग एक बेस्ट हॉलीडे डेस्टिनेशन स्‍पॉट हो सकता है। दरअसल यहां चाय के बगान, मोनास्ट्रीज़, टॉय ट्रेन की सवारी, ब्रिटिश काल का आर्किटेक्चर, रॉक गार्डेन और बर्फ की चादर में लिपटा कंचनजंगा पर्वत की खूबसूरती लोगों को अपना दीवाना बनाती है।

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button