खूबसूरती ही नहीं सेहत का भी ध्यान रखता है गुलाब

- in जीवनशैली

सुंदर दिखने के लिए आप क्या-क्या नहीं करतीं? ब्यूटी पार्लर के चक्कर से लेकर दादी मां के नुस्खे को आजमाने तक। जब इतना कर लिया तो गुलाब को भी आजमा कर देख लें। सुंदर दिखने के लिए हम खानपान पर नियंत्रण, दवाओं का सेवन, कई प्रकार के कॉस्मेटिक्स का प्रयोग और न जाने क्या-क्या करते हैं! लेकिन क्या आपको पता है कि ये सब फायदे आपको गुलाब की पंखुड़ियों से मिल सकते हैं।खूबसूरती ही नहीं सेहत का भी ध्यान रखता है गुलाब

गुलाब का फूल दिखने में सुंदर होता है, और खाने के बाद फायदेमंद भी। इसकी पंखुड़ियों को खाने से आंतरिक और बाह्य दोनों को कई प्रकार से लाभ पहुंचता है। गुलाब में 95 प्रतिशत पानी होता है। यह कई प्रकार के औषधीय गुणों से भी भरपूर होता है। इसकी पंखुड़ियों में कई रोगों के उपचार की क्षमता है। साथ ही इसकी पंखुड़ियों को खाने से चेहरे पर निखार और कई प्रकार की बीमारियों से छुटकारा मिलता है।

घटेगा वजन
गुलाब में विटामिन-सी और एंटीऑक्सीडेंट होता है। गुलाब की पंखुड़ियों से बने गुलकंद खाने से हड्डियां मजबूत होती है। साथ ही यह वजन कम करने में भी आपकी मदद करती है। आप पानी या मेथी के साथ इसकी पंखुडि़यों का पेस्ट बनाकर खा सकती हैं। इससे शरीर का अतिरिक्त वजन कम होता है। साथ ही गुलाब की पंखुड़ियां आपके मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने में भी सहायक होती हैं।

निखरे चेहरा
गुलाब चेहरे के कील-मुंहासों को खत्म करने में भी काफी मदद करता है। गुलाब की पंखुडि़यों का पेस्ट त्वचा के लिए काफी अच्छा होता है। गुलाब की पंखुडि़यों को सुखाकर या पानी के साथ मुल्तानी मिट्टी में पंखुडि़यों को मिलाकर हफ्ते में एक बार लगाना चाहिए। इसका लगातार उपयोग करने से चहरे पर मुंहासों के निशान भी कम होते हैं। साथ ही गुलाब की पंखुडि़यां आपकी त्वचा को स्वस्थ बनाए रखने में भी मदद करती है।

थकान दूर
शारीरिक और मानसिक थकावट को कम करने में भी यह काफी मददगार साबित होता है। गुलाब की पंखुडि़यों की खुशबू से आपके शरीर और दिमाग को आराम मिलता है। पानी को गुनगुना करके इसकी पंखुड़ियों को डालकर स्नान करने से तनाव कम होता है। आपको नींद नहीं आती या अक्सर तनाव में रहती हैं, तो सिर के पास गुलाब रखकर सोने से तनाव कम होता है और अनिद्रा की समस्या भी दूर हो जाती है।

खिलेंगे होंठ
गुलाब शरीर को ठंडक पहुंचाता है। यह शरीर को डीहाइड्रेशन से बचाता है और तरोताजा रखता है। पेट को भी ठंडक पहुंचाता है। गुलाब की पंखुडियों से बना गुलकंद स्फूर्ति देने वाला एक शीतल टॉनिक है, जो थकान, आलस्य, मांसपेशियों के दर्द और जलन आदि समस्याओं को भी दूर करता है। गुलाब की पंखुडियों को खाने से आपके होंठ हमेशा खिले-खिले रहते हैं। साथ ही होठों के फटने का डर भी कम होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

शेविंग के पहले और बाद में इन बातों का रखें ख्याल, नहीं होगा इंफेक्शन

जल्दी-जल्दी शेव करने से त्वचा खराब हो जाती