कॉल ड्राप को लेकर JIO और एयरटेल में फिर से हुआ ये बड़ा विवाद

रिलायंस जियो और टेलीकॉम कंपनियों में चल रही प्रतिस्पर्धा में  टेलीकॉम कंपनिया रिलायंस की जियो सेवा के खिलाफ भी मोर्चा खोले हुए है. जिसमे जियो की फ्री सेवा का कड़ा विरोध किया जा रहा है. ऐसे में अब फिर से एयरटेल जियो के विरोध में सामने आ गयी है. एयरटेल द्वारा जियो के फ्री इन्टरनेट और वॉइस कॉलिंग ऑफर को गलत करार देते हुए कार्यवाही करने की मांग की जा रही है.

अभी अभी: वोटर कार्ड से जुड़ी इस बड़ी खुशखबरी को पढ़कर, खुशी से नाचने लगेंगे आप3 महीनो तक किया रेप और बनाया MMS

वही हाल में जियो ने दावा किया है कि एयरटेल द्वारा नेटवर्क से उसकी कॉल जोड़ने की पर्याप्त सुविधा उपलब्ध नही करवाई गयी है, जिससे प्वाइंट आफ इंटरकनेक्ट की सुविधा के आभाव में कॉलड्रॉप जैसी घटनाये हुई है. जियो ने कहा है कि ट्राई के नियमों के अनुसार  कॉल ड्रॉप दर 0.5 प्रतिशत से अधिक नहीं होनी चाहिए, किन्तु देश के अंदर लंबी दूरी की दैनिक 2.6 करोड़ यानि 53.4 प्रतिशत फोन कॉल विफल हो रहे है. जिसके लिए एयरटेल जिम्मेदार है. 

बता दे कि रिलायंस जियो द्वारा अपने यूज़र्स के लिए सितंबर महीने से वॉइस कालिंग और फ्री इन्टरनेट दिया जा रहा है. इस सेवा को अब 31 मार्च तक फ्री कर दिया है, जिसका विरोध टेलीकॉम कंपनियों द्वारा शुरू से ही किया जा रहा है. ऐसे में एयरटेल ने आरोप लगाया है कि रिलायंस जियो दूरसंचार बाजार में प्रतिस्पर्धा समाप्त करने के लिए फ्री सर्विस के साथ ‘बाजार बिगाडऩे वाले शुल्कों’ की पेशकश कर रही है. किन्तु जियो ने इसका जवाब देते हुए कहा है कि  53.4 प्रतिशत एनएलडी कॉल के नही लगने के लिए जियो जिम्मेदार नही है

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button