कुछ भी न खाएं, अपनी भूख को पहचानें

images (5)भूख को शांत करने के लिए कुछ भी खा लेने की टेंडेंसी आपकी सेहत के साथ खिलवाड़ कर सकती है। वजन कम करने के बजाय बढ़ सकता है। और यह आदत आपको मुश्किल में डाल सकती है। इसलिए न सिर्फ अपनी ईटिंग हैबिट्स को सुधारें और अपनी छोटी-छोटी भूख का भी ख्याल करें ।

फाइबर-रिच नाश्ता करें :

सुबह का नाश्ता अगर ठीक ढंग से किया जाए तो शरीर को बार बार भोजन लेने की अधिक आवश्यकता नहीं पड़ती है। साथ ही सुबह के नाश्ते में प्रोटीन और फाइबर की मात्रा लेने से शरीर की सभी जरूरतें पूरी हो जाती है। ओट्स, अंडे और फल अपने नाश्ते में शामिल कर सकते हैं।

कॉफी की जगह सेब लें :

कॉफी लंबे समय तक पीने से सेहत को नुकसान होता है। कॉफी की आदत को सेब से बदलें। भूख लगे तो कॉफी नहीं बल्कि सेब खाएं। सेब पेट की कब्ज की समस्या को भी दूर करता है।

क्या आप वाकई में भूखे हैं

कई बार हम बोरियत होने के दौरान कुछ न कुछ खा लेते है और अक्सर हम इसे अपनी आदत बना लेते है। इसलिए जब भी भूख लगे तो हमें खुद ही इस बात का निर्णय लेना होगा कि हमें वाकई भूख लगी है या हम सिर्फ बोरियत से बचने के लिए ही कुछ खाना चाहते है।

थोड़ी थोड़ी देर में ले आहार

तीन बार भोजन करने की जगह पर थोड़े थोड़े समय पर कुछ न कुछ खा लेना चाहिए। इससे उनकी बार बार भूख लगने की आदत में बदलाव आने लगेगा। दिन में थोड़ा थोड़ा खाने से आपके शरीर को थोड़ा थोड़ा भोजन मिलता रहेगा। जिससे आपकी लगातार भूख लगने की आदत शांत हो जाएगी।

पानी सही मात्रा में पिएं :

भूख लगने की स्थिति में पेट को भरने का आसान तरीका है कि आप पानी को पी लें। क्योंकि कई बार हम पानी पीने की ओर ध्यान ही नहीं देते है और सोचते है कि हमें भूख लग रही है।

अपनी भूख की क्षमता को पहचानें

बार बार खाने की आदत से बचने के लिए हमें अपने शरीर की क्षमता को पहचाना होगा ताकि हम अपनी भूख पर काबू पा सके। बेपरवाह खाने की आदत पर विचार करके ही आहार लेना चाहिए।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button