किम जोंग ने कोरोना वायरस के डर से अफसर को मरवा दी गोली, की थी यह छोटी सी गलती…

उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन के तानाशाही तौर-तरीकों से हर कोई वाकिफ है. यहां एक छोटी सी गलती पर भी मौत की सजा दी जाती है. कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर जहां पूरी दुनिया में इलाज ढूंढने के प्रयास किए जा रहे हैं, वहीं उत्तर कोरिया में वायरस से संक्रमित पीड़ितों पर ही जुल्म ढाया जा रहा है.

Loading...

रिपोर्ट के अनुसार, कोरोना वायरस के संक्रमण के शक में उत्तर कोरिया के एक अधिकारी को आइसोलेशन सेंटर में अलग रखा गया था. लेकिन इस अधिकारी ने गलती से सार्वजनिक बाथरूम इस्तेमाल कर लिया, जिसकी कीमत उसे अपनी जिंदगी देकर चुकानी पड़ी.

दक्षिण कोरिया के अखबार डोन्ग-ए-इलबो न्यूज के मुताबिक, इस शख्स को चीन से लौटकर आने के बाद बिल्कुल अलग जगह पर रखा गया था. अधिकारी के सार्वजनिक बाथरूम इस्तेमाल करने की वजह से उसे कोरोना वायरस संक्रमण फैलाने और नियमों के उल्लंघन का दोषी करार दिया गया. बाद में उसकी गोली मारकर हत्या कर दी गई.

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने बिना अनुमति लिए क्वैरेंटाइन (संक्रमित लोगों के लिए अलग जगह) छोड़कर जाने वाले लोगों के खिलाफ सैन्य कानून के मुताबिक कार्रवाई करने का संकल्प लिया है.

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस ने लिया इस शहर में सबसे विकराल रूप, 1 दिन में लगे लाशों के ढेर

यूके मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक, उत्तर कोरिया की राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी के एक अन्य अधिकारी को भी चीन की यात्रा करने की बात छिपाने को लेकर देश से निकाल दिया गया.

दक्षिण कोरिया की मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उत्तर कोरिया में कोरोना वायरस के कई मामले सामने आए हैं और इससे कई लोगों की मौतें होने की भी आशंका है हालांकि, प्योंगयांग में विश्व स्वास्थ्य संगठन के अधिकारियों का कहना है कि उन्हें अभी तक किसी भी मामले की सूचना नहीं मिली है.

उत्तर कोरिया इस बात को लेकर अडिग है कि उसके यहां कोरोना वायरस का एक भी मामला सामने नहीं आया है. हालांकि, विश्लेषकों को इस बात पर भरोसा नहीं है कि चीन के साथ 880 मील की सीमा वाले देश में कोरोना वायरस का एक भी मामला नहीं सामने आया है.

सेंटर फॉर द नेशनल इंट्रेस्ट में कोरियन स्टडीज के डायरेक्टर हैरी काजीनिस ने एक इंटरव्यू में बताया कि ऐसा हो ही नहीं सकता है कि उत्तर कोरिया कोरोना वायरस के संक्रमण से पूरी तरह बचा हुआ है. वे साफ तौर पर झूठ बोल रहे हैं क्योंकि वे अपनी कमजोरी को जाहिर नहीं करना चाहते हैं और ना ही अपनी सत्ता पर किसी तरह का खतरा आने देना चाहते हैं. किम जोंग उत्तर कोरिया और चीन के अवैध व्यापार पर जिस तरह से निर्भर है, उससे साफ है कि चीन से वायरस यहां आया ही होगा.

 

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *