कंप्यूटर प्रोग्रामर्स को नहीं मिलेगा H1B वीजा, नियम हुए सख्त

वॉशिंगटन। एच1 बी वीजा को लेकर ट्रंप प्रशासन ने कंपनियों को कडी चेतावनी दी है। ट्रंप प्रशासन ने कंपनियों से कहा है कि एच1 बी प्रोगाम का दुरुपयोग कर अमेरिकियों से भेदभाव ना करे।कंप्यूटर प्रोग्रामर्स को नहीं मिलेगा H1B वीजा, नियम हुए सख्त

सिविल राइट्स डिविजन के ऐक्टिंग असिस्टेंट अटॉर्नी जनरल टॉम वीइलर ने कहा है कि जस्टिस डिपार्टमेंट अमेरिकी वर्करों के प्रति भेदभाव के लिए एच1 बी वीजा प्रोसेस का दुरुपयोग करने वाली कंपनियों को बर्दाश्त नहीं करेगा।

जस्टिस डिपार्टमेंट का कहना है कि अमेरिकी वर्करों को अनचाही स्थिति में नहीं रखना चाहिए और डिपार्टमेंट इन शिकायतों पर पूरी गंभीरता से जांच करेगा और दोषियों को दंडित करेगा।

वीजा जारी करने वाली अमेरिकी एजेंसी का कहना है कि जब देश में उच्च-कौशल वाले कर्मचारियों का अभाव हो तो एच1 बी वीजा प्रोग्राम से अमेरिकी कंपनियों को उच्च-कौशल प्राप्त विदेशियों की नियुक्ति करने में मदद मिलनी चाहिए।

साथ ही एजेंसी का कहना है कि उच्च कौशल प्राप्त कई अमेरिकी इन क्षेत्रों में काम करना चाहते हैं, लेकिन उन्हें नजरअंदाज किया जा रहा है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button