ऐसे करे अपनी वेजाइना की सुरक्षा

हमारे देश में हर चार महिलाओं में एक महिला यौन रोग से पीड़ित है। ये रोग किसी भी प्रकार के हो सकता है। जैसे योनि में खुजली, इंफेक्शन, सूजन या अन्य तरह के रोग,लेकिन क्या आप जानती है। अक्सर महिलाए शर्म के कारण इन बातो को किसी से शेयर नहीं करती। लेकिन क्या आप जानती है इन रोगों के होने के कारण क्या है  यदि नहीं तो आइए हम आपको अवगत करते है कुछ इस तरह के रोग और उनके उपायों से…

हेयर रिमूवल क्रीम का प्रयोग-

नीचे की ओर हेयर रिमूवल क्रीम लगाने से उस एरिया पर घाव आदि हो सकता है और साथ ही संक्रमण का खतरा भी हो सकता है। आप चाहें तो वैजाइना को शेव या वैक्‍स कर सकती हैं।

सुगन्‍धित साबुन का प्रयोग-  साबुन जितना सुगन्‍धित होगा, उसमें उतनरा ही ज्‍यादा कैमिकल होगा। अगर आपको अपनी योनि को साफ सुथरा रखना है तो अपनी स्‍त्री रोग विशेषज्ञ से सलाह लें।

लुब्रिकेशन – तेल आधारित लुब्रिकेशन को ठीक प्रकार से धोना थोड़ा मुश्‍किल होता है, इसलिये उपयोग करने के बाद अगर वो ठीक से साफ ना किया गया, तो वह बैक्‍टीरिया का कारण बन सकता है। अनचाहे गर्भ और यौन रोगों के डर से अगर आपका पार्टनर लेटेक्‍स कंडोम का यूज़ करता है तो उसे सिलिकॉन आधारित या पानी आधारित लुब्रिकेंट्स यूज़ करने को कहें।

ब्‍लीचिंग – जिस तरह आप अपने चेहरे को गोरा करने के लिये ब्‍लीच करती हैं और फिर कुछ ही दिनों में पुराना रंग वापस आ जाता है। वैसे ही वैजाइना के आस पास की रंगत को निखारने में लगाई गई महनत भी खराब हो सकती है। उस जगह पर कैमिकल लगाना कोई अच्‍छी बात नहीं।

टाइट जींस पहनना- खूब ज्‍यादा टाइट जींस पहनने से भी आपके वैजाइना को नुकसान पहुंचता है। जींस का फैबरिक और हवा की कमी की वजह से उस ज़ोन पर बैक्‍टीरिया ग्रो करने लगते हैं।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button