एसिडिटी से चाहिए छुटकारा तो जरूर करें इनका सेवन

- in हेल्थ

ज्यादातर लोग एसिडिटी की समस्या से परेशान रहते हैं. दरअसल अस्वस्थ खान-पान के कारण लोगों को इस समस्या का सामना करना पड़ता है. इसके उपाय के लिए लोग तरह-तरह की दवाईयों का इस्तेमाल भी करते हैं, जिनके अपने साइड इफेक्ट होते हैं.एसिडिटी से चाहिए छुटकारा तो जरूर करें इनका सेवन

अक्सर लोग एसिडिटी की समस्या से निजात पाने के लिए अपने आस-पास मौजूद चीजों को ही दरकिनार कर देते हैं. एसिडिटि की समस्या से परेशान रहने वाले लोग खान-पान में बदलाव करके और स्वास्थ्यवर्धक खाद्य पदार्थों का सेवन करके इससे बच सकते हैं. वहीं कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ भी मौजूद हैं जिनके सेवन से एसिटिडि की समस्या तो दूर होती ही है साथ ही शरीर में आवश्यक तत्वों की पूर्ति भी होती है.

आइए जानते हैं कि एसिडिटि से निजात पाने के लिए किन खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए…

तरबूज

तरबूज में पर्याप्त मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स, फाइबर मौजूद होते हैं. तरबूज के सेवन से पेट को हाइड्रेट रखा जा सकता है और इसकी मदद से पीएच स्तर को कम करने में मदद मिलती है. इससे एसिडिटी की समस्या कम रहती है.

नारियल पानी
नारियल पानी शरीर के लिए काफी उपयोगी रहता है. इससे शरीर में आवश्यक तत्वों की पूर्ति करने में भी मदद मिलती है. नारियल पानी शरीर में से टॉक्सिन्स निकाल देता है. इसकी वजह से नारियल पानी के सेवन से भी एसिडिटी की समस्या को दूर किया जा सकता है.
 

केला
केला एक ऐसा फल है जो एंटी-ऑक्सीडेंट्स और पोटेशियम से भरपूर होता है. केला एसिड रिफ्लक्स को कम करता है। साथ ही केले में फाइबर पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है जिसकी मदद से एसिडिटी से बचा जा सकता है.

खीरा
खीरे में काफी मात्रा में पानी होता है जो कि शरीर को हाइड्रेट रखता है. खीरा शरीर के लिए कई तत्वों की भरपाई करता है. खीरा भी एसिड रिफ्लक्स को कम करता है जिससे एसिडिटी की समस्या में कमी आती है.

ठंडा दूध
दूध शरीर और हड्डियों के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है. वहीं ठंडा दूध पीने से एसिडिटि की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है. ठंडा दूध एसिड रिफ्लक्स और पेट की जलन को शांत करता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अगर आपके शरीर के इस हिस्से में होता है दर्द तो आपको होने वाला है कैंसर

कैंसर एक ऐसी अवस्था है जिसमें शरीर के